• एजेंसी

अवैध शराब के विरूद्ध चलाये गये अभियान के तहत पड़े 32,765 छापे



लखनऊ (न्यूज़ ऑफ इंडिया)। सेंथिल पांडियन सी, आबकारी आयुक्त, उत्तर प्रदेश द्वारा अवगत कराया गया कि मुख्यिमंत्री योगी आदित्येनाथ के आदेश तथा . आबकारी मंत्री नितिन अग्रवाल द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुपालन में एवं संजय आर. भूसरेड्डी,अपर मुख्य सचिव, आबकारी, द्वारा दिये गये निर्देश एवं मानीटरिंग के क्रम में 16 से 30 अगस्त, 2022 तक अवैध शराब के निर्माण की बिक्री एवं तस्करी के विरूद्ध विशेष प्रवर्तन अभियान चलाया गया। अभियान में अवैध मदिरा के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी के विरूद्ध निरन्तर छापेमारी के लिये राजस्व प्रशासन पुलिस तथा आबकारी की संयुक्त टीमें गठित की गई। यथावश्यकता जी.एस.टी. परिवहन विभाग से समन्वय कर सहयोग लिया गया।

 

अभियान के दौरान अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी कर लाये जाने वाले मदिरा के पकड़-धकड़ के लिये टीमों द्वारा संदिग्ध स्थानों पर छापेमारी के साथ-साथ विभिन्न स्रोतों से प्राप्त सूचनाओं के आधार पर कार्यवाही की गई। राष्ट्रीय राजमार्गों राज्य राजमार्गों तथा लिंक मार्गों पर लगातार चेकिंग कराई गई। इसके अतिरिक्तो हरियाणा  तथा दिल्ली के बार्डर पर जनपद एवं प्रवर्तन की टीमों के साथ नये प्रशिक्षु आबकारी निरीक्षकों को भी तैनात कर सघन चेकिंग कराया गया। ईंट-भट्ठों, आर.ओ. प्लांट, पुराने खंडहर तथा एकांत स्थित गोदामों, ढाबों  एवं पेंट की दुकानों पर भी विभाग द्वारा सतर्कता बरतते हुए अवैध शराब के निर्माण बिक्री एवं तस्कनरी पर अंकुश लगाया गया।


आबकारी आयुक्त द्वारा बताया गया कि अभियान की अवधि में अवैध शराब के निर्माण एवं बिक्री के लिए संदिग्ध ग्रामों, विभिन्न श्रोतों से प्राप्त होने वाले सूचनाओं के आधार पर कुल 32,765 छापे डाले गये। इन छापों में विभाग द्वारा 4,627 मुकदमें पंजीकृत किये गये, जिसके अन्तर्गत लगभग 1.26 लाख ब0ली0 अवैध शराब की बरामदगी की गयी। अवैध शराब के कारोबार में संलग्न 2018 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध आबकारी अधिनियम के साथ-साथ आई.पी.सी. की सुसंगत धाराओं में कठोर कार्यवाही करायी गई। अभियान में लगभग 3,30,397 हजार कि.ग्रा. महुआ लहन की बरामदगी की गई जिसे मौके पर नष्ट किया गया, साथ ही शराब बनाने के उपकरणों को नष्ट करते हुए अनेकों भट्ठियां मौके पर तोड़ी गई।

 

अभियान के दौरान एन.सी.आर. में दिल्लीअ सीमा पर कड़ी निगरानी रखते हुए शराब लेकर आने वाले दो पहिया-चार पहिया की कुल 80 गाडि़यॉं जब्तड की गयी। मेरठ मण्डरल में 322 मुकदमें दर्ज करते हुए 9,325 ली0 अवैध शराब बरामद की गयी तथा शराब के अवैध कारोबार में लगे हुए 225 व्यनक्तियों को गिरफ्तार किया गया।

जनपद लखनऊ में आबकारी एवं पुलिस विभाग की संयुक्त टीम द्वारा ग्राम खुशहालगंज थाना-पारा में दबिश/ चेकिंग की कार्यवाही करते हुए लोहे एवं प्लामस्टिक के 24 ड्रमों में कुल 2850 लीटर स्प्रिट की बरामदगी तथा एक मारूति ओमनी कार तथा 02 मोटर साइकिल जब्तु करते हुए 05 अभियुक्तों के विरूद्ध आबकारी अधिनियम व आई0पी0सी0 की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत कराया गया।

 

आबकारी दुकानों की चेकिंग के दौरान जनपद गोरखपुर में थाना राजघाट अन्तदर्गत देशी शराब दुकान उर्दू बाजार (ख) में अपमिश्रित शराब पाई गई और विक्रेता को जेल भेजते हुए 657 ली0 शराब जब्त  की गयी। दुकान पर अनियमितता पाये जाने पर दुकान का लाइसेंस निलम्बित करने की कार्यवाही की गयी।

अभियान के दौरान प्रदेश में अवैध शराब के निर्माण, बिक्री के संदिग्धय स्थाानों तथा टोल फ्री नम्बबर के जरिये प्राप्त् सूचना के आधार पर कई दर्जन गांवों में छापेमारी की गयी।  दबिश में मुजफ्फरनगर में पुरवालियान, साउठू, भौराकलां, रामराज, सहारनपुर में रसूलपुर, गढीमलुक, शब्दचलपुर,  बीबीपुर, मनानी,  सुलतानपुर जनपद बस्तीस में महेशपुर, छेदियापार, सिद्धार्थनगर में छतरही, बालानागर, इटहिया संतकबीरगनर में दुसुवाबाजार, घनघटा, मांझा, बगौसा, जनपद गोरखपुर में मझरिया, लक्ष्मीुपुर, अम्बु तानी, महाराजगंज में जंगल गुलरिया, कुशीनगर में खपराबाद, बोदरवाद, उस्म,हा, पनियहवां, पथलहवा, अयोध्याा में गुप्ताररघाट, हैतरगंज, देवकाली, भावापुर, खण्डाहसा, परसन का पुरवा, बाराबंकी में बेहड़पुरवा, बहलालपुर, सुल्तापनपुर में खैरहा, भियरा, बरूआ, ग्राम पूरे भोजा, अम्बेपडकरनगर में सलेमपुर, बिरोजपुर, मकदूमपुर, गौड़ा मांझा,  सिद्धनाथ आदि स्थाेनों पर दबिश की कार्यवाही की गयी।


आबकारी आयुक्त द्वारा बताया गया कि अनुज्ञापित दुकानों पर POS मशीनों के माध्य्म स्कैकनिंग करते हुए मदिरा की बिक्री की शुरूआत की जा चुकी है। आबकारी की टीमें लगातार दुकानों की गहन चेकिंग कर रही है। मदिरा की गुणवत्ता के साथ छेड़छाड़ करने वाले तथा राजस्व को नुकसान पहुंचाने वाले किसी भी अनुज्ञापी तथा विक्रेता को बख्शा नहीं जाएगा उनके विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उनके द्वारा यह बताया गया कि अवैध शराब के निर्माण, बिक्री, तस्करी के विरूद्ध विभाग की कार्यवाही आगे भी लगातार जारी रहेगी।