top of page
  • संवाददाता

कोटद्वार: अपर पुलिस अधीक्षक ने की 'ऑपरेशन मुक्ति' की टीम के साथ बैठक




पौड़ी। ऑपरेशन मुक्ति अभियान के तहत अपर पुलिस अधीक्षक द्वारा विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ समन्वय बैठक आयोजित की गई।


पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड अशोक कुमार की पहल पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद पौड़ी गढवाल यशवन्त सिंह चौहान के निर्देशन, अपर पुलिस अधीक्षक कोटद्वार शेखर चन्द्र सुयाल क्षेत्राधिकारी कोटद्वार गणेश लाल कोहली, क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन/ नोडल अधिकारी वैभव सैनी के निकट पर्यवेक्षण में प्रभारी एएचटीयू निरीक्षक राजनेद्र सिंह खोलिया के नेतृत्व में 02 माह लिए प्रदेश स्तर पर चलाए जा "ऑपरेशन मुक्ति"। इस अभियान की थीम "भिक्षा नहीं शिक्षा दें" व " support to educate a chaild" है।


सोमवार के अपर पुलिस अधीक्षक कोटद्वार शेखर चन्द्र सुयाल द्वारा जनपद पौड़ी की "ऑपरेशन मुक्ति" टीम, चिकित्सक विभाग, CWC आदि के साथ गोष्ठी आयोजित कर निम्न बातों पर चर्चा की गयी।


ऑपरेशन मुक्ति की सोच को जन-जन तक पहुंचाने के साथ ही मित्र पुलिस के सपनों को साकार करने के लिए आम जनता को ऐसे बालकों को भिक्षावृत्ति और बालश्रम से मुक्त कराकर स्कूली शिक्षा के लिए तैयार कर उनके निकटवर्ती स्थानों पर आम जनता को उनकी देखरेख में स्वेच्छा से नियुक्त किया जाए।


अपर पुलिस अधीक्षक, क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन विभव सैनी व प्रभारी निरीक्षक राजेंद्र सिंह खोलिया के द्वारा

दो- दो बालकों को गोद लेने के लिए खुद ही पहल की गई।


जनपद पौड़ी के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों से अपील की गई है की वह अपनी इच्छानुसार बच्चों को शिक्षा के लिए गोद लेकर ऑपरेशन मुक्ति अभियान को सफल बनाने के लिए अपनी मित्रवत सहभागिता सहज प्रदान कर सकते है।


जिसके लिए “अहतु शाखा” कोटद्वार से संपर्क कर अपना सहयोग करने के लिए संपर्क कर सकते है। जनता का कोई भी व्यक्ति भी एएचटीयू शाखा कोटद्वार से संपर्क कर अभियान में शामिल हो सकता है।


उक्त गोष्ठी में सीडब्ल्यूसी मेंबर विमल ध्यानी, स्वास्थ्य विभाग की टीम, प्रोजेक्ट हेल्प एनजीओ शालिनी, बाल विकास विभाग से संतोषी गुँसाई एवं ऑपरेशन मुक्ति टीम आदि शामिल रहें।


bottom of page