• ब्यूरो

अजय कुमार लल्लू ने गरीबों के लिए संघर्ष किया: प्रियंका


लखनऊ, सोशल टाइम्स। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि अजय कुमार लल्लू ने गरीबों के लिए संघर्ष किया। हर बार उन्होंने यही कहा कि जो गरीब है, पीड़ित है, हमें सबसे पहले उसके पास चलना है। सरकार के दबाव के बावजूद भी यह गरीबों की लड़ाई लड़ने में कभी नहीं झिझके। तमुकही राज के पास एक ऐसे विधायक जो संघर्ष के लिए तैयार रहते हैं।


प्रियंका ने सोमवार को बलिया के बांसडीह, फेफना में रोड शो किया और देवरिया के रुद्रपुर में डोर-टू-डोर जनसंपर्क किया। उन्होंने कुशीनगर के तमकुहीराज में जनसभा कर भाजपा पर महंगाई, गरीबी और को बेरोजगारी को लेकर जमकर निशाना साधा और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष व प्रत्याशी अजय कुमार लल्लू को वोट देने की अपील की।  


तमकुही राज में आयोजित जनसभा में उन्होंने कहा, बीते तीन साल में पूरा प्रदेश घूमकर देखा है। आज देश प्रदेश में ऐसी राजनीति चल रही है, जो फ़ायदा उठाकर आगे बढ़ना चाहती है। अपनी महत्वाकांक्षाओं के लिए, जनता की समस्याओं को नकार कर, जनता के जज्बातों का इस्तेमाल कर आगे बढ़ रही है। अजय कुमार लल्लू इसके विपरीत की राजनीति के मिसाल हैं। वह अपनी महत्वाकांक्षाओं को परे रखकर, सिर्फ आपके ही संघर्षों के लिए समर्पित रहते हैं।


जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे आपके पूर्वजों ने इस देश को आजादी दिलवाई। भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता मेरे परिवार पर उंगली उठाते हैं, कहते हैं कि हम आतंकवाद से जुड़े हैं ? मैंने कहा हाँ, जुड़ी हूँ आतंकवादियों से, मेरे पिता को आतंकवादियों ने मारा, मेरी दादी को आतंकवादियों ने मारा, मेरे पिता, मेरी दादी इस देश के लिए खून बहाये हैं। और ये लोग जो इस देश की संपत्ति बेच रहे हैं, बड़े-बड़े उद्योगपतियों के लिए सरकार चला रहे हैं, आज उन शहीदों पर ऊँगली उठा रहे हैं। भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग परिवारवाद की बात करते हैं, कौन सा परिवारवाद ? सारे नेता के पुत्र तो यह ले गए पार्टी में, तो कौन से परिवारवाद से परहेज था इनको ? सिर्फ मेरे परिवार से, क्योंकि मेरा परिवार इनके सामने कभी नहीं झुकेगा। और यह जानते हैं कि कुछ भी कर लें, हम भाजपा के साथ न समझौता करेंगे और न कभी झुकेंगे।


कांग्रेस महासचिव ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश में किसानों को गन्ना, धान, गेहूं का मूल्य नहीं मिलता है। खाद समय पर नहीं मिलती, बिजली नहीं आती लेकिन बिल जरूर आता है। महंगाई बेलगाम है, पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। किसानी करते हैं, दिन रात मेहनत के बाद भी कमाई कुछ नहीं है। यह सरकार ऐसे कानून ला रही थी, जिससे मेहनत, संघर्ष करें आप और फायदा हो प्रधानमंत्री के बड़े-बड़े उद्योगपति मित्रों का। इस पूरे देश में उन काले कानूनों के खिलाफ आंदोलन हुआ। अजय कुमार लल्लू जी सामने आए और किसानों के साथ खड़े रहे। इस देश के प्रधानमंत्री, इस प्रदेश के मुख्यमंत्री किसानों से बात करने के लिए अपने घर से बाहर नहीं निकले।


उन्होंने कहा कि लाखों नौजवान आज बेरोजगार हैं, किसान कमा नहीं पा रहा है, छोटे दुकानदार, व्यापारी नई नई नीतियों से परेशान हैं। महिलाओं की सुरक्षा और उनको सशक्त करने की बात नहीं हो रही है। कभी आपने सोचा है कि किसके लिए बन रही हैं यह नीतियां ? इसलिए आंखें खोलिए, इस देश प्रदेश में जो राजनीति चल रही है, वह सिर्फ कुछ उद्योगपतियों के लिए चल रही है। रोजगार देने वाले संस्थानों और संसाधनों को बेचा जा रहा है। रोजगार देने वाले क्षेत्र की इस सरकार ने कमर तोड़ दी है। पीएम-सीएम बड़े बड़े वादे करते हैं, पांच साल से उत्तर प्रदेश में सत्ता में हैं, इसके बावजूद खाली पड़े 12 लाख सरकारी पद भर नहीं पाए। अपने मित्रों को देश की संपत्ति बेच डाली। किसके लिए चल रही है यह प्रदेश की सरकार ? किसके लिए बनती हैं यह नीतियां ? सोचिए कि एक तरफ यह कहते हैं कि रोजगार देंगे, दूसरी तरफ रोजगार देने वाले संस्थानों को बेच रहे हैं। आज किसान तमाम समस्याओं से जूझ रहा है। पूरे देश के गन्ना किसानों का बकाया पड़ा है, इस सरकार ने वह नहीं चुकाया। इन्होने अपने उद्योगपति मित्रों के लाखों करोड़ रुपये का कर्ज माफ़ कर दिया, लेकिन किसानों का बकाया नहीं दिया। 16 हजार करोड़ के दो हवाई प्रधानमंत्री ने अपने लिए खरीदे हैं, ताकि दुनिया में भ्रमण करें, लेकिन गन्ना बकाया नहीं दिया।


कांग्रेस महासचिव ने कहा कि छुट्टे जानवर की समस्या से पूरे प्रदेश में किसान परेशान है। लोगों को खेतों की चौकीदारी करनी पड़ रही है और प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि मेरे संज्ञान में ही नहीं था। इस देश का सबसे बड़ा प्रदेश है उत्तर प्रदेश और यहाँ के किसानों की समस्या आपको पता ही नहीं है ? प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि आपके चेले, भक्त कहते हैं कि आप अंतर्यामी हैं, सर्वज्ञानी हैं, उन्होंने आपको भगवान बना डाला और आप कह रहे हैं कि आपको कुछ नहीं मालूम। यहां के लोग कमाने के लिए दूसरे राज्यों में जाते हैं, नौजवान बेरोजगार हैं, भर्ती प्रक्रिया भ्रष्ट है, नौजवानों का जीवन बर्बाद हो रहा है और आप कहते हैं कि आपको मालूम नहीं है। कैसे अंतर्यामी, सर्वज्ञानी हैं कि अपनी जनता का दुःख भी नहीं मालूम है। अपने प्रदेश के किसान, नौजवान और महिलाओं के संघर्ष के बारे में जानकारी नहीं है आपको ? या फिर आप सच नहीं बोल रहे हैं।


जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को सब कुछ मालूम है, लेकिन वह इस प्रदेश की जनता की परवाह नहीं कर रहे हैं। वो अपनी सरकार सिर्फ अमीरों के लिए चला रहे हैं, क्योंकि वह जानते हैं कि जनता को गरीब रखेंगे, जानबूझकर रोजगार नहीं देंगे, जनता को शिक्षित नहीं करेंगे, क्योंकि वह जान गए हैं कि लोग उनसे सवाल नहीं करेंगे। जब वह चुनाव में आएंगे, जाति-धर्म की बात करेंगे और आप आँख बंद कर उन्हें वोट दे देंगे। नेता समझते हैं कि जनता भोली-भाली है, उसके जज्बात उभारकर वोट ले लेंगे। यह इनकी मानसिकता बन गई है। जब एक नेता कि मानसिकता बन जाती है कि जनता उसका नमक खा रही है, तो किसी काम का नहीं रहता वह नेता, क्योंकि नेता जनता का नमक खाता है। इस प्रदेश की जमीन उपजाऊ है, नौजवानों में काबिलियत है, हुनर है, इस प्रदेश ने देश की राजनीति को दिशा दिखाई, आज यह प्रदेश ही खाई में है। यह नेता आपका हक़ देकर सोचते हैं कि आप पर एहसान कर रहे हैं। लेकिन आपका हक़ इससे कहीं ज्यादा है। एक बोरे राशन से कुछ दिन आपका पेट भर जाएगा, लेकिन आप सशक्त नहीं बन सकते। आप अपने बच्चों का भविष्य बनाने के लिए मेहनत करते हैं, यह सरकार आपके बच्चों को निर्भर बनाकर उन्हें बेरोजगार रख रही है। प्रदेश में जब गरीबों, महिलाओं पर अत्याचार हुआ कोई नहीं आया, क्योंकि नेता अपनी जिम्मेदारी भूल गए हैं। कोई नेता चुनावी मंच पर विकास या जनता के हित की बात नहीं करता है।


उन्होंने कहा कि कोरोना आया, लोग संकट में थे, कांग्रेस के लोगों मदद के लिए आगे आए, ऑक्सीजन की व्यवस्था की, लोगों की मदद के लिए जेल चले गए। और प्रधानमंत्री जी संसद में कहते हैं कि मजदूरों, श्रमिकों की मदद करके कांग्रेस ने पाप किया। क्या एक भूखे को खाना देना, प्यासे को पानी पिलाना पाप है ? या यह पाप है कि जनता के जज्बातों का इस्तेमाल कर भाजपा सत्ता में आई, झुठे वादे किए, अपने जनता को झूठा भरोसा दिलाया कि आप विकास ला रहे थे। और फिर आपने कुछ नहीं किया उल्टा जनता की संपत्ति को बेच डाला। और फिर चुनाव के समय मंच पर आकर पाकिस्तान, बुलडोजर, आतंकवाद की बात करते हैं, इससे जनता का पेट भरेगा ?


कांग्रेस महासचिव ने कहा कि भाजपा को याद दिलाओ कि आखिरकार इन्हें सत्ता में लाए क्यों थे, विकास नहीं हो रहा है, तो बदल दो यहाँ की राजनीति, क्योंकि भाजपा सत्ता में आई, तो प्रदेश का, किसान का, नौजवान का नुकसान होगा। इनकी सरकार में सिर्फ भाजपा के नेता और इनके उद्योगपति दोस्त विकसित होंगे। हम आपसे सच बोलते हैं, क्योंकि हमें आपकी, इस देश की, प्रदेश की चिंता है। इस देश को आजादी इसलिए दिलवाई गई ताकि आप अपने पैरों पर खड़े हो जाओ, इसलिए नहीं कि आप इनके एक बोरे राशन पर निर्भर हो जाओ। इनके बच्चे विदेश में पढ़ते हैं और आपके बच्चे यहां बेरोजगार घूम रहे हैं। इस देश की राजनीति आपको बदली पड़ेगी, यह आपकी जिम्मेदारी है। आप अपने वोट का इस्तेमाल कर एक ऐसी सरकार ला सकते हैं, जो आपके लिए काम करे, जिसके नेता यह न समझें कि आप उनका नमक खा रहे हैं, बल्कि यह समझें कि वह आपका नमक खा रहे हैं। ऐसी पार्टी की सरकार बनाएं, जिसका नेता आपके लिए शहीद होने के लिए तैयार हो, आपके लिए समर्पित होने के लिए तैयार हो। इस प्रदेश से राजनीति को बदलने का सन्देश दीजिए।