top of page
  • ब्यूरो

अखिलेश बोलें: प्रदेश में पुलिस का उत्पीड़न बढ़ा, कोई न्याय देने वाला नही

भाजपा सरकार मेट्रो का एक स्टेशन नहीं बना पाई...

लखनऊ, सोशल टाइम्स। शनिवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति कभी इतनी खराब नहीं रही जितनी आज है। पुलिस का उत्पीड़न बढ़ा है। कोई न्याय देने वाला नही है। उन्होंने कार्यकर्ताओं को मतदान और मतगणना के समय सतर्क एवं सजग रहने की सीख देते हुए कहा कि भाजपा चुनाव से पहले कुछ भी कर सकती है। अखिलेश यादव ने मीडिया से वार्ता करते हुए कहा कि भाजपा ने अभी तक कोई काम नहीं किया है। रंग बदलने, नाम बदलने और उद्घाटन का उद्घाटन तथा शिलान्यास का शिलान्यास करने के अलावा उसने कुछ नहीं किया है। भाजपा बाबा साहब भीमराव अम्बेडकरनगर के सिद्धांत नहीं मान रही है। वह सब कुछ बेचना चाहती है।

यादव ने कहा कि भाजपा सरकार मेट्रो का एक स्टेशन नहीं बना पाई है। मुख्यमंत्री जी जिस जेल का इटावा में उद्घाटन करने जा रहे हैं, सपा के ही काम का उद्घाटन करेंगे। जेल को जोड़ने वाली सड़क की दशा खराब है, वह सड़क भी नहीं बना सके हैं। भाजपा का एक ही काम है, बड़े पैमाने पर पैसे बांटकर वोट खरीदना। अब मुख्यमंत्री जी और उनकी सरकार बस जाने वाली है। अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री जी विदेश में पर्यावरण सुधारने का वादा कर आए हैं लेकिन यहां भाजपा के लोग जमीन पर कब्जा कर रहे हैं। पेड़ कटवा रहे हैं। सरकार चैनलों में सही खबर चलने पर दबाव बनाती है और पत्रकारों के खिलाफ मुकदमें भी दर्ज हो रहे हैं। महंगाई चरम पर है। डीजल-पेट्रोल के दाम कम करके जनता को भ्रमित किया जा रहा है। यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी में दलितों, पिछड़ों सहित सबको जोड़ने का काम हुआ। हमारा विचार है कि सभी जातियों को सम्मान मिलना चाहिए। उत्तर प्रदेश में जातीय जनगणना समाजवादी सरकार में होगी। सभी जातियों को समानुपातिक आधार पर उनका हक और सम्मान दिया जाएगा। भाजपा केवल अपने स्वार्थ के लिए झगड़ा करवाती है। डिफेंस एक्सपो जब लगा तब गोमती नदी को सजाया गया था लेकिन निवेश कहां गया? कितने लोगों को जॉब मिला, कितने कारखाने खुले? अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में समाज के सभी वर्गो के साथ अन्याय हो रहा है। किसान, नौजवान, मजदूर सभी परेशान हैं। महिलाओं को लगातार अपमानित किया जा रहा है। जनता अब भाजपा से बुरी तरह ऊब चुकी है और वह जल्दी से जल्दी उससे छुटकारा पाना चाहती है। सन् 2022 में जनता साइकिल को ही अपनी पहली पसंद बनाने जा रही है।

bottom of page