• ब्यूरो

भीमराव अम्बेडकर ने देश को एक नई दिशा दी: योगी

मुख्यमंत्री ने मेरठ में जनसभा को किया सम्बोधित

मेरठ, सोशल टाइम्स। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भीमराव अम्बेडकर ने देश को संविधान के माध्यम से एक नई दिशा दी है। कांग्रेस और सपा के लोग बाबा साहब का अपमान लगातार करते रहे हैं। अगर किसी ने बाबा साहब का सम्मान किया तो वह प्रधानमंत्री जी ने किया है। उन्होंने बाबा साहब से जुड़े पांच स्थलों को पंच तीर्थ बनाया। बाबा साहब ने भारत के विभाजन का विरोध किया था। बाबा साहब ने कहा था कि जो लोग भारत विभाजन का समर्थन कर रहे हैं, वे पाकिस्तान चले जायं। अगर बाबा साहब की बात मान ली गई होती तो देश में दंगे न होते। 1987 में मेरठ में भी भयंकर दंगा हुआ था। सैकड़ों लोग मारे गए थे। यह सिलसिला चलता रहा, क्योंकि कांग्रेस और सपा के लोग एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं। ये लोग दंगाइयों को प्रोत्साहित करते हैं। अगर पीएसी न आती तो 87 के दंगे में बहुत नुकसान हुआ होता। जब हमारी सरकार आई तो हमने दंगाग्रस्त इलाकों में पीएसी की बटालियन तैनात करने का आदेश दिया। हम देवबंद में एटीएस सेंटर बनवा रहे हैं। जो भी भारत विरोधी गतिविधियों में लिप्त होगा, उसका काम तमाम कर दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने सोमवार को मेरठ में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब सपा और कांग्रेस की सरकारें आती थीं तो दंगा शुरू हो जाता था। इन लोगों ने पश्चिमी यूपी को दंगों में झोंकने का काम किया। कैराना में पलायन कराया। इनका नाम समाजवादी, सोच परिवारवादी और काम दंगावादी है। उन्होंने कहा कि जब दंगा हो रहा था दो लड़कों की जोड़ी में एक तमाशा देख रहा था और दूसरा दंगा करवा रहा था। हस्तिनापुर मेरठ में ही है। महात्मा विदुर से द्रौपदी ने भरी सभा में पूछा था चीरहरण का दोषी कौन है। एक तिहाई जिसने पापा किया है, एक तिहाई जो तमाशबीन बना रहा और एक तिहाई जो सहयोगी रहा। उन्होंने कहा कि न हमें तमाशबीन नहीं बनना है, न हमें सहयोगी बनना है। हम दंगा नहीं होने देंगे, हमें प्रदेश का विकास कराना है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार में पांच साल में कोई दंगा नहीं हुआ। आज कर्फ्यू नहीं लगता, कांवड़ यात्रा निकलती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो बवाल करेगा उसकी संपत्ति जब्त हो जाएगी, बुलडोजर भी चलेगा। हम हर बेटी को सुरक्षा देंगे, सबका मान बढ़ाएंगे। आज कानून का राज है। पांच साल में बेटियों को सुरक्षा दी, सबका सम्मान किया। यूपी में कोरोना की वैक्सीन 100 फीसदी लोगों ने पहली डोज और 75 फीसदी लोगों ने दोनों डोज ले ली है। यह चुनाव 80 बनाम 20 का होगा। अब यही 80 फीसदी हमारी तरफ आ रहे हैं। जो लोग वैक्सीन का विरोध कर रहे थे, उनके मुंह पर वोट का तमाचा मारना चाहिए। पहले तो दंगों से मरवाया और अब लोगों को कोराना से मरवाना चाहते थे। आज न कोई दंगों से तबाह होगा न करोना से। क्योंकि डबल इंजन की सरकार है। आपको राशन का डबल डोज मिल रहा है। दो बार विक्ट्री का चिह्न है। उन्होंने जनता से पूछा कि सपा के लोग देते थे। राशन, बिजली देते थे, सड़क बनाते थे, सुरक्षा देते थे तो लोगों ने ना में जवाब दिया। उन्होंने कहा कि सरकार वही, प्रदेश वही तंत्र वही बस सपा के जगह भाजपा आ गई। इसका मतलब विकास का पैसा इत्र वाले मित्र के घर चला जाता था। इसलिए बुलडोजर चलना पड़ा। क्योंकि जब मां लक्ष्मी मुक्त होंगी तब गरीब को राशन मुफ्त मिलता रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पांच साल पहले दिल्ली तक जाने में 5 घंटे लगते थे अब 40 मिनट में पहुंच जाते हैं। अब तो रैपिड रेल भी चलने जा रही है, जिससे 40 मिनट में दिल्ली तक सफर तय कर सकेंगे। हम मेरठ में स्पोर्ट्स विश्वविद्यालय बनवा रहे है। मेरठ से प्रयागराज तक गंगा एक्सप्रेस वे बनने जा रहा है। उन्होंने कहा कि जो जीवन आसन करे और सुरक्षा प्रदान करे, वही सरकार है।