• ब्यूरो

देश में भाजपा और आरएसएस की सरकारें समानांतर काम कर रही : अखिलेश

भाजपा के अत्याचारों के सामने समाजवादी पार्टी झुकने वाली नहीं..

लखनऊ, सोशल टाइम्स। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि देश में दो सरकारें समानांतर काम कर रही हैं। एक सरकार का भाजपा नेतृत्व कर रही है और दूसरी समानांतर सरकार आर.एस.एस. के नेतृत्व में अपना एजेण्डा लागू कराती है। भाजपा सरकार सत्ता का दुरुपयोग करती है और संघ समाज में बंटवारा पैदा करता है। इन दो पाटों के बीच जनता और विपक्षी कार्यकर्ता समान रूप से पिस रहे है।

उन्होंने कहा कि जिन पर कानून व्यवस्था सम्हालने की जिम्मेदारी है वही लगातार कानून का मजाक बना रहे हैं। न्याय देना तो दूर उल्टा अत्याचार कर रहे हैं। सत्ता के संरक्षण में पनप रहे अपराधियों ने पूरे प्रदेश में अपना आतंक मचा रखा है। दलित-वंचित और समाज के कमजोर वर्गों के ऊपर इधर भाजपा राज में ज्यादा अत्याचार बढ़ गए हैं क्योंकि भाजपा मूलतः पूंजीघरानों और शोषक तत्वों की समर्थक पार्टी है।

सपा प्रमुख ने कहा कि जिला पंचायत और ब्लाक प्रमुख चुनावों में भाजपा ने सत्ता का जैसा खुला दुरूपयोग किया है वह शर्मनाक है। लोकतंत्र की निर्ममता से हत्या की गई है। चुनावों के दौरान समाजवादी प्रत्याशियों को नामांकन से जबरन रोका गया, मतदान के दौरान हिंसा हुई और प्रत्याशियों तथा समर्थकों का अपहरण तथा बंधक बनाने की निंदनीय घटनाएं सर्वविदित है।

उन्होंने कहा कि चुनावों में बड़े पैमाने पर धांधली के बाद भी समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न जारी है। विभिन्न जनपदों में समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं पर बड़े पैमाने पर फर्जी मुकदमें लगा दिए गए हैं। अज्ञात में तमाम लोगों को नामजद किया जा रहा है। समाजवादी कार्यकर्ताओं और नेताओं का अन्य तरीकों से भी उत्पीड़न किया जा रहा है। घरों में रात में दबिश डालकर परिवारीजनों से अभद्रता की जा रही है। पुलिस कार्रवाई में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता निर्मम पिटाई से घायल भी हुए हैं। भाजपा के अत्याचारों के सामने समाजवादी पार्टी झुकने वाली नहीं है। लोकतंत्र को बचाने के लिए समाजवादी पार्टी का संघर्ष जारी रहेगा। भाजपा विपक्ष को कुचलने और जनता की आवाज को दबाने में लगी है। आर.एस.एस. भाजपाई दुष्प्रचार को हवा देने में सक्रिय है।

उन्होंने कहा कि अगला विधान सभा चुनाव 2022 लोकतंत्र को बचाने का चुनाव होगा। भाजपा लोकतंत्र के साथ छल करने पर तुली हुई है। समाजवादी पार्टी पूरी ताकत से सन् 2022 की चुनौती से निपटते हुए विजय पथ की ओर अग्रसर होगी। जनता भी समाजवादी पार्टी की सरकार चाहती है। भाजपा चाहे जितनी कलाबाजियां खा ले जनता भाजपा की सच्चाई से परिचित है।