• ब्यूरो

सांस्कृतिक मूल्यों और पौराणिक मुद्दों पर भाजपा अग्रणीय: योगी




लखनऊ। एक राजनीतिक दल जिसने देश के अंदर पिछले आठ वर्षों में देश की पूरी काया पलट कर रख दी है वह देश ही नहीं दुनिया को भी एक नई दिशा दे रहा है। जब दुनिया के सामने स्वयं के अस्तित्व का संकट खड़ा हो रहा है तो पूरी दुनिया भारत की ओर आशा भरी निगाहों से देख रही है। वह राजनीतिक दल अपने सांस्कृतिक मूल्यों, अपने ऐतिहासिक, पौराणिक मुद्​दों को लेकर अग्रणीय बना हुआ है। ऐसा सिर्फ भारतीय जनता पार्टी की कर सकती है। यही वजह है कि पिछले तीन दिन से चित्रकूट में प्रशिक्षिण शिविर की हर ओर चर्चा हो रही है। ये बातें शनिवार को मुख्यमंत्री योग आदित्यनाथ ने चित्रकूट में चल रही भाजपा के प्रदेश प्रशिक्षण शिविर में रविवार को समापन सत्र को संबोधित करते हुए कही।


मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ही सामूहिक रूप से चिंतन, सामूहिक रूप से इक्ट्ठा होना, सामूहिक रूप से बैठना, सामूहिक रूप से चिंतन को आगे बढ़ा सकती है। तीन दिनों के चिंतन में आप ने महसूस किया होगा कि पिछले पांच वर्षों में उत्तर प्रदेश में हमने क्या कुछ किया है और इसे प्राप्त करने में कैसे सफलता प्राप्त हुई, यह सब भी आपने बहुत नजदीक से महसूस भी किया होगा। पांच वर्ष पहले इस चित्रकूट में आना बहुत चुनौतीपूर्ण था। हमने पांच वर्ष पहले पहला मुद्दा अपने एजेंडे पर बुंदेलखंड का लिया। पहली घोषणा बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की थी जो अब शुरू हो चुका है। इसके बाद हर-घर नल की घोषणा की। हमने यहां की समस्याओं को दूर किया है। वही जब सुशासन के लक्ष्य को प्राप्त करने में आमजन मानस किसी सरकार की कार्य पद्धति को देखकर कहने लग जाए कि सरकार ठीक काम कर रही है और उसके चेहरे के भाव यह अहसास कराने लग जाएं तो समझिए सरकार ठीक काम कर रही है और सही दिशा में काम कर रही है।


सीएम ने कहा कि हमने सुशासन के लक्ष्य को उस दिशा में प्राप्त करने में अच्छे कदम बढ़ाए हैं हमारे कदम सही दिशा में हैं। हम एक सकारात्मक भाव के साथ आगे बढ़ रहे हैं। उत्तर प्रदेश सुशासन की ओर बढ़ रहा है यह एक दिन में नहीं हुआ, एक बार के प्रयास से नहीं हुआ इसे प्राप्त करने में हमारे पीछे हमारे केंद्रीय नेतृत्व और यशस्वी मार्गदर्शन है। प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, रक्षामंत्री, राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय नेताओं के मार्ग दर्शन से हमने इसे प्राप्त किया है। हमने अपने कार्यक्रमों में मूल्यों और आदर्शों को अपनाकर इसे स्थापित किया है। वहीं अटलजी की बातों को ध्यान में रखकर जिसे हमने मंत्र माना वह कि राजनीति मूल्यों की होती है, सिद्धांतों की होती है, सिद्धांत विहीन राजनीति को अटल जी मौत का फंदा मानते थे। हमने केवल सिद्धांतों की राजनीति को बखूबी अपनाया।


मुख्यमंत्री ने कहा कि हम लोग किसी भी पद्धति के विरोधी नहीं हैं, हमारी पारंपरिक चिकित्सा आयुर्वेद थी और योग को दुनिया ने स्वीकार किया है। आज दुनिया योग के पीछे भाग रही है। हम प्रधानमंत्री के आभारी हैं जिन्होंने 21 जून की तिथि को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में दुनिया में मान्यता दिलाई। योग वैश्विक मंच पर छा रहा है। कोरोना महामारी के दौरान पूरी दुनिया ने आयुर्वेद की ताकत को माना, लेकिन आयुर्वेद में जब इतनी ताकत है तो वह पिछड़ा क्यों यह सोचने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हम आवश्यकता पड़ने पर अपनी बातों को मूल्यों और सिद्धांतों के साथ रखने में किसी प्रकार का संकोच नहीं करते हैं। वहीं जब आम जनमानस के मन में विश्वास होता है कि सरकार सब ठीक कर देगी और उसके मन में जब कोई अविश्वास नहीं है तो हमारा विरोधी कितना भी अविश्वास करता हो उसके अविश्वास से कुछ नहीं होता है। यही वजह है कि वर्ष 2022 के विधानसभा के चुनाव में जनता ने भारतीय जनता पार्टी पर अपना विश्वास दिखाया।