top of page
  • ब्यूरो

दिव्य और भव्य अयोध्या में जमीन घोटाले में भाजपा विधायक, महापौर शामिल: पीएल पुनिया



लखनऊ। कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव एवं उ.प्र. के सहप्रभारी धीरज गुर्जर ने राष्ट्रीय लोकदल के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व शिक्षा मंत्री डा० मसूद अहमद सहित राष्ट्रीय लोकदल व समाजवादी पार्टी के सैकड़ों समर्थकों को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी की सदस्यता दिलायी तथा कांग्रेस पार्टी का गमछा पहनाकर, बुके देकर स्वागत किया। इस अवसर पर पूर्व सांसद डा० पीएल पुनिया, पूर्व विधायक सतीश अजमानी, पूर्व मंत्री नकुल दुबे, प्रदेश उपाध्यक्ष विश्वविजय सिंह, प्रदेश महासचिव दिनेश सिंह, अनिल यादव, मीडिया संयोजक अशोक सिंह, ललन कुमार, प्रवक्ता कृष्णकांत पाण्डेय, अंशू अवस्थी, विकास श्रीवास्तव, सचिन रावत, जियाउर्रहमान आदि उपस्थित रहे।


उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता कृष्णकांत पाण्डेय ने बताया कि डा० मसूद अहमद एवं उनके समर्थकों को पार्टी की सदस्यता दिलाने के उपरान्त धीरज गुर्जर ने कहा कि देश व प्रदेश में अब अल्पसंख्यक, दलित समझ चुके हैं कि कांग्रेस ही भाजपा का एकमात्र विकल्प है। डा० मसूद अहमद और उनके समर्थकों के आने से कांग्रेस को ताकत मिलेगी।


उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी चरम पर है, महंगाई ने अब तक के सारे रिकार्ड तोड़ दिये है लेकिन मोदी सरकार और भाजपा जानबूझकर आमजन की कमरतोड़ रही है। उन्होंने कहा कि युवाओं ने अच्छे दिनों के लिए भाजपा को वोट किया था लेकिन अब युवा और छात्र पुराने दिनों को याद कर रहें हैं। गुर्जर ने कहा कि भाजपा ने युवाओं, छात्रों और किसानो केे साथ धोखा किया है।


पूर्व सांसद डा० पीएल पुनिया ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के चंदे में भाजपा नेताओं और संघ से जुड़ें लोगों द्वारा किया घोटाला अभी थमा भी नहीं था कि भाजपा के विधायक, पूर्व विधायक और मेयर तथा अन्य लगभग 40 लोंगो द्वारा दिव्य और भव्य अयोध्या के नाम पर अरबों रूपये कीमत की सरकारी नजूल भूमि पर अवैध तरीके कब्जा कर कॉलोनियां बसाई जा रहीं हैं।


डा० पुनिया ने आगे कहा कि जमथरा घाट से लेकर गोलाघाट तक जिस तरह से सरकारी भूमि पर अतिक्रमण हुआ है उससे स्पष्ट होता है कि राज्य सरकार भू मफियाओं के साथ खड़ी है। भाजपा के ही सांसद द्वारा मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर भ्रष्टाचार की चर्चा की जा रही है। स्पष्ट होता है कि इस सरकार के क्रिया कलापों से भाजपा के नेता भी काफी असन्तुष्ट हैं।


प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता कृष्णकांत पाण्डेय ने बताया कि रालोद के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष पूर्व शिक्षा मंत्री डा० मसूद अहमद ने कांग्रेस का दामन थामने के उपरान्त सपा, बसपा, और रालोद को बीजेपी की बी टीम बताते हुए जनता के मुद्दों पर जानबूझकर मौन रहने का आरोप लगाया। डा० मसूद अहमदन ने मुस्लिमों और दलितों से सपा, बसपा की अंधभक्ति छोड़ संविधान और लोकतंत्र बचाने के लिए कांग्रेस से जुड़ने का आवहन किया।


डा० मसूद अहमद ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार और भाजपा आरएसएस की जनविरोधी नीतियों एवं तानाशाही रवैये के खिलाफ पूरे देश में सिर्फ राहुल गांधी और प्रियंका गांधी सड़क से लेकर संसद तक लड़ाई लड़ रहें हैं। अल्पसंख्यकों और दलितों को गुमराह कर वोट लेने वाले छोटे-छोटे क्षेत्रीय दल मौन हैं और बीजेपी के एजेण्डे को आगे बढ़ा रहें हैं। डा० मसूद अहमद ने कहा कि अखिलेश यादव, मायावती, और जयंत चौधरी ईडी के भय से नहीं बोल रहें हैं और मौन रहकर भाजपा को समर्थन कर रहें हैं।



bottom of page