top of page
  • एजेंसी

किसान हित में केंद्रीय कृषि विकास संस्थान कर रहा कई योजनाएं संचालित


लखनऊ (न्यूज़ ऑफ इंडिया) केंद्र तथा उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप किसानों की आय दोगुनी करने और खेती किसानी को रोजगार परक और उद्योगों से जोड़ने के लिए केंद्रीय कृषि विकास संस्थान अनेक योजनाएं संचालित कर रहा है। इसके तहत किसानों को निःशुल्क प्रशिक्षण तथा

पंजीकृत कृषकों को अनुदानयुक्त ऋण भी उपलब्ध कराया जा रहा है।


संस्थान के निदेशक चन्द्र भूषण पाण्डेय ने बताया कि केंद्रीय कृषि विकास संस्थान द्वारा संचालित योजनाओं में कृषक अपना निःशुल्क पंजीकरण कर योजनाओं का सीधे लाभ प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि केंद्रीय कृषि विकास संस्थान द्वारा पूर्व में जारी नियुक्ति विज्ञापनों की परीक्षा इसी वित्तीय वर्ष में संपन्न कराया जायेगा जिससे बेरोजगारी दर में कमी आएगी। इसके साथ ही संस्थान के अधीन 1.5 लाख नौकरियों में चयन प्रक्रिया गतिशील है। वर्ष 2028-29 तक 3.5 करोड़ पंजीकृत कृषक परिवारों को डीबीडी के माध्यम से विभिन्न योजनाओं का लाभ पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि डेयरी उत्पादन, पशुपालन व औषधीय फसलों की खेती से अथवा कृषि एवं सम्बद्ध क्षेत्रों से किसानी को रोजगार परक बनाकर न केवल उनकी आय दोगुनी की जा सकती है बल्कि ग्रामीण परिवेश में विकास को तेजी से आगे बढ़ाया जा सकता है।

श्री पाण्डेय ने बताया कि केंद्रीय कृषि विकास संस्थान द्वारा कोरोना काल के दौरान पलायित मजदूरों अथवा कृषकों के निःशुल्क पंजीकरण के पूर्व में जारी सैद्धांतिक सहमति को स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है जिससे सम्बन्धित कार्यशाला अथवा सेमिनार नवम्बर अथवा दिसम्बर में की जायेंगी। श्री पाण्डेय ने बताया कि केंद्रीय कृषि विकास संस्थान के आधिकारिक वेबसाइट में अधिक जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

bottom of page