• एजेंसी

मुख्यमंत्री ने दिए कोविड से बचाव की व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के निर्देश


लखनऊ (न्यूज़ ऑफ इंडिया) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में कोविड-19 से बचाव व उपचार की व्यवस्थाओं को पूरी तरह चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि कोरोना के सम्बन्ध में प्रत्येक स्तर पर पूर्ण सावधानी एवं सतर्कता बरती जाए।          

मुख्यमंत्री गुरुवार को शास्त्री भवन में आहूत टीम-9 की बैठक में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देशित किया कि एन0सी0आर0 के जनपदों के साथ-साथ लखनऊ जनपद में सार्वजनिक स्थानों पर सभी के लिए मास्क लगाए जाने की व्यवस्था को प्रभावी ढंग से लागू किया जाए। लोगों को कोविड प्रोटोकाॅल के अनुपालन के लिए जागरूक करने हेतु पब्लिक एड्रेस सिस्टम का प्रभावी इस्तेमाल किया जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर सतर्क रहना आवश्यक है। इसके दृष्टिगत स्कूलों में कोविड प्रोटोकाॅल के पालन के सम्बन्ध में बच्चों को जागरूक किया जाए।            

इस अवसर पर अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 205 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 81 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 980 है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 01 लाख 14 हजार 982 कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 11 करोड़ 02 लाख 51 हजार 832 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।            

बैठक में यह जानकारी भी दी गयी कि राज्य में गत दिवस तक 30 करोड़ 91 लाख 40 हजार से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 12 करोड़ 80 लाख 33 हजार से अधिक लोगों को टीके की दोनों डोज देकर कोविड सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है। इस प्रकार 86.85 प्रतिशत लोग कोविड टीके की दोनों डोज ले चुके हैं। 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 15 करोड़ 28 लाख 81 हजार से अधिक लोगों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त कर ली है।          

विगत दिवस तक 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग में 94.32 प्रतिशत किशोर कोविड वैक्सीन की प्रथम डोज तथा 62.04 प्रतिशत किशोर टीके की दूसरी खुराक प्राप्त कर चुके हैं। 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के 36 लाख 57 हजार से अधिक बच्चों ने टीके की पहली खुराक प्राप्त कर ली है। 26 लाख 37 हजार से अधिक प्रिकाॅशन डोज प्रदान की जा चुकी हैं। मुख्यमंत्री ने 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों को टीके की पहली डोज के बाद पात्रता के अनुसार दूसरी डोज भी दिए जाने के निर्देश दिए।


18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को बूस्टर डोज लगाए जाने में तेजी दिखाने के निर्देश :मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को बूस्टर डोज लगाए जाने में तेजी की अपेक्षा करते हुए कहा कि प्रत्येक दशा में यह सुनिश्चित किया जाए कि लक्षित आयुवर्ग का कोई भी नागरिक टीकाकवर से वंचित न रहे। बूस्टर डोज के महत्व एवं बूस्टर टीकाकरण केन्द्रों के सम्बन्ध में आमजन को जागरूक किया जाए।            मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार आने वाले दिनों में कोविड के नए केस में बढ़ोत्तरी देखने को मिल सकती है, किन्तु वायरस का यह वेरिएण्ट सामान्य वायरल की तरह है। कोविड टीका लगवा चुके लोगों के लिए खतरे की सम्भावना न्यून है। उन्होंने कहा कि लोगों को बताया जाए कि घबराने की कोई जरूरत नहीं, लेकिन सतर्कता व सावधानी बनाए रखनी होगी