• संवाददाता

निकाय चुनाव की तैयारियों में जोर -शोर से जुटी कांग्रेस


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव की तैयारी में कांग्रेस पार्टी जोरों शोरों से लगी हुई है। इसी कड़ी में गुरुवार को पार्टी ने पिछले निकाय चुनाव में जीते हुए पदाधिकारियों की बैठक बुलाई। बैठक की अगुवाई वर्तमान में विधायक और उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष वीरेंद्र चौधरी जी ने की। साथ में संगठन महासचिव दिनेश सिंह और संगठन सचिव अनिल यादव भी बैठक मौजूद में रहे प्रदेश कांग्रेस के डिजिटल मीडिया संयोजक/प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने जानकारी देते हुए बताया कि आने वाले निकाय चुनाव में पार्टी की क्या रणनीति रहेगी इस पर बैठक में विस्तृत रूप से चर्चा हुई। जीते हुए पदाधिकारियों ने अपना अनुभव साझा किया और धरातल पर चल रही राजनीतिक स्थिति को भी बयां किया। बैठक में जीते हुए पदाधिकारियों से एक फीडबैक फॉर्म भी भराया गया जिसमें मौजूदा मुद्दे, पार्टी की आने वाले चुनाव में रणनीति और अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां इकट्ठी की गई। अंशू अवस्थी ने बताया कि बैठक में एक प्रेजेंटेशन भी दिखाया गया जिसमें पुराने चुनावों में कांग्रेस की अन्य पार्टियों की तुलना में क्या स्थिति थी और आगामी चुनावों को जीतने के लिए पार्टी को किन मुद्दों पर काम करना है इसका विवरण था। पार्टी ने मौजूदा समय में सोशल मीडिया और डाटा का महत्व समझते हुए इन पर जोर शोर से काम करने निर्णय किया और इसके लिए लोकल स्तर पर वॉर रूप बनाने का भी निर्णय लिया गया। प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने निकाय चुनाव के लिएकांग्रेस पार्टी की टिकट वितरण की प्रक्रिया के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि निकाय चुनाव टिकट में नयी प्रक्रिया अपनायी गई है। पार्टी ने एक 16 पन्नों का विस्तृत फॉर्म वितरण किया है जिसमें चुनाव लड़ने के लिए इच्छुक व्यक्ति को नामांकन के लिए कई जानकारियां भरनी होंगी जैसे कि अपने 300 समर्थकों की लिस्ट, अपने चुनावी क्षेत्र के राजनीतिक और गैर राजनीतिक लोगों का विवरण इत्यादि। दो दिवसीय नव संकल्प कार्यशाला के मौके पर भी निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस की डाटा टीम ने लंबी प्रेजेंटेशन दी थी। इस सिलसिले में 2 पिछले महीने में ये चौथी बैठक है।