• ब्यूरो

अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने की मांग को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन

‘‘टेनी’’ की गिरफ्तारी तक लड़ेगी कांग्रेस: पंकज तिवारी

लखनऊ, सोशल टाइम्स। बुधवार को कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने किसानों को धमकी देने वाले और लखीमपुर में उन्हें गाड़ी से कुचलकर मारने के आरोपी आशीष मिश्रा के पिता अजय मिश्रा टेनी को केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री पद से बर्खास्त करनी की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। माल एवेन्यू प्रदेश कार्यालय से निकले कांग्रेसजनों को पुलिस ने जब आगे बढ़ने नहीं दिया कार्यकर्ता वहीं चौराहे पर धरने पर बैठ गये। कांग्रेस प्रवक्ता पंकज तिवारी ने पुलिस प्रशासन के इस रवैये क कडी निन्दा की है। उन्होंने कहा कि अपनी उचित मांगों के लिए शांतिप्रिय तरीके से आन्दोलनरत लखीमपुर के किसानों के ऊपर निर्दयतापूर्वक गाड़ी से रौंद कर मार देने की घटना में भारत सरकार के गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा ‘‘टेनी’’ के विरूद्ध आज तक कोई भी कार्यवाह नहीं हुई है। वह लगातार प्रधानमंत्री मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह के साथ मंच पर नजर आते है। ये लखीमपुर में शहीद हुए किसानों के परिजनों का अपमान है। मोदी सरकार के इसी तानाशाह रवैये के विरूद्ध राजीव चौक चौराहे पर प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसजनों को पुलिस ने रोक कर साबित किया कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भी किसानों के साथ हो रही क्रूरता में बराबर की भागीदार है।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जबरन रोकने के लिए लाठीचार्च किया। जिसमें कांग्रेस पार्टी के तमाम नेता एवं कार्यकर्ता घायल हो गये। कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक श्री सतीश आजमानी, उपाध्यक्ष एवं प्रशासन प्रभारी योगेश दीक्षित, संगठन महासचिव श्री दिनेश सिंह, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमटी मीडिया विभाग के वाइस चेयरमैन श्री पंकज श्रीवास्तव जी प्रदेश महासचिव शिव पाण्डेय, प्रदेश प्रवक्ता उमाशंकर पाण्डेय जिला कांग्रेस कमेटी लखनऊ के अध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष उत्तरी अजय श्रीवास्तव अज्जू एंव शहर दक्षिणी के अध्यक्ष दिलप्रीत सिंह डीपी, संम्पूर्णानंद मिश्रा, भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के अध्यक्ष अनस रहमान, जिला युवा कांग्रेस के अध्यक्ष अंकित तिवारी, आर्यन मिश्रा, आशुतोष मिश्रा, अनीस अख्तर मोदी, जियाराम वर्मा, इरशाद अली, प्रदेश महिला की अध्यक्ष ममता चौधरी, शाीला मिश्रा, प्रवीन खान, साबरा खातून, कैप्टन वंशीधर मिश्रा, सीमा चौधरी सहित कई नेताओं एवं कार्यकर्ता पुलिस के तानाशाही रवैये के विरूद्ध किसानों को न्याय दिलाने के लिए धरने पर बैठ गये। पंकज तिवारी ने कहा कि लखीमपुर कांड के दौरान किसानों को डराने धमकाने के लिए दर्ज किये गये फर्जी मुकदमें वापस लिये जाने की कांग्रेसजनों ने मांग की। किसान विरोधी उत्तर प्रदेश सरकार केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री को बचाने के लिए किसानों को अलग-अलग तरीकों से परेशान करने का षणयंत्र कर रही है और दूसरी तरफ आरोपित गृह राज्यमंत्री को संरक्षण देते हुए प्रधानमंत्री तक के कार्यक्रमों में मंच पर स्थान देकर किसानों के जले पर नमक छिड़कनें का काम कर रही है। कांग्र्रेस पार्टी अन्याय के विरूद्ध किसानों के न्याय की लड़ाई लड़ती रहेगी।