• ब्यूरो

कांग्रेस ने पूरे देश में निकाली ‘‘शक्ति यात्राएं’’


लखनऊ, सोशल टाइम्स। ‘‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’’ अभियान के 125 दिन पूरे होने पर कांग्रेस पार्टी की ओर से पूरे देश में लाखों महिलाओं ने ‘‘शक्ति यात्रा’’ निकाली। सोमवार को आयोजित इस अभियान में कलकत्ता से लेकर हैदराबाद और बंगलूरू से से लेकर हिमाचल तक हजारों महिलाओ ने शक्ति मार्च निकाला। महिलाओं ने भारतीय राजनीति में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए अखिल भारतीय महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुश्री नेट्टा डिसूजा की देखरेख में प्रत्येक विधानसभा में ‘‘शक्ति’’ मार्च निकाला।


अखिल भारतीय महिला कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक महिला के बारे में कुछ खास है, जो पुरुषों की दुनिया में हावी है। उन्होंने कहा कि अक्टूबर 2021 में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा शुरू किए गए ‘‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’’ अभियान का उद्देश्य भारतीय राजनीति में महिलाओं और उनकी आकांक्षाओं को मुख्यधारा में लाना है। यह उत्तर प्रदेश में शुरू हुआ, जिसमें कांग्रेस ने वादा किया और फिर महिला उम्मीदवारों को 40 प्रतिशत टिकट देने की अपनी प्रतिबद्धता को पूरा किया।


उन्होंने कहा कि यह महिला मार्च एकजुटता का संदेश देने और राजनीति को अधिक समावेशी बनाने के साथ-साथ राजनीति में महिलाओं की भागीदारी का भी प्रतीक है। नारी शक्ति के राजनीतिक पुनरोत्थान को अब कोई ताकत नहीं रोक सकती है और उत्तर प्रदेश से इसकी शुरुआत हो चुकी है।


शक्ति मार्च में शामिल महिलाओं ने अपनी एकजुटता दिखाते हुए ‘‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’’ के नारे से लोगों में जोश भर दिया। महिलाओं ने इस अभियान के 125 दिन पूरे होने को अपनी राजनीतिक शक्ति के रूप और प्रभाव के रूप में मनाया। इससे पहले कांग्रेस पार्टी द्वारा महिला संसद का आयोजन किया था, जिसमें महिला संसद में भाग लेने वाली विजेता महिलाओं को सम्मानित किया गया था।