• ब्यूरो

कांग्रेस कराएगी ‘‘लड़की हूँ लड़ सकती हूं’’ मैराथन प्रतियोगिता

लड़कियों की भागीदारी दर्ज कराएगी कांग्रेस

लखनऊ, सोशल टाइम्स। कांग्रेस पार्टी प्रदेश में महिलाओं के सशक्तिकरण का संदेश देने के लिए पूरे प्रदेश में मैराथन प्रतियोगिता करा रही है, मैराथन प्रतियोगिता में प्रथम तीन विजेताओं को स्कूटी व अन्य विजेताओं को भी पुरस्कार देकर उनका प्रोत्साहन करेगी। उत्तर प्रदेश महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष ममता चौधरी ने गुरुवार को बताया कि पूरे प्रदेश में प्रदेश की महिलाओं के राजनैतिक भागीदारी को सुनिश्चित करने के साथ उनके प्रोत्साहन के लिए ‘‘लड़की हूँ लड़ सकती हूँ’’ मैराथन प्रतियोगिता का आयोजन कांग्रेस पार्टी कर रही है। इसी के क्रम में आने वाली 26 दिसंबर को लखनऊ में व झांसी में प्रतियोगिता कराई जाएगी।

ममता ने जानकारी देते हुए बताया की मैराथन में भाग लेने के लिए न्यूनतम आयु 16 वर्ष रखी गयी है और पंजीकरण बिल्कुल निशुल्क रखा गया है , पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन के साथ-साथ फार्म जमा करके भी प्रतियोगिता में शामिल हुआ जा सकता है। लखनऊ में होने वाली 5 किलोमीटर की इस मैराथन प्रतियोगिता की शुरुआत, प्रातः 8ः00 बजे, 1090 चौराहे से प्रारंभ होगी, पंजीकरण फार्म उत्तर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय नेहरू भवन में श्री अवनीश से मोबाइल छव् 8368408358 पर सम्पर्क कर जमा कर सकते हैं। लखनऊ में प्रसिद्ध अभिनेत्री और खेल में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने वाली मंदिरा बेदी और श्री राजीव शुक्ला मैराथन प्रतियोगिता को हरी झंडी दिखाएंगें। विगत दिनों कांग्रेस पार्टी द्वारा मेरठ में आयोजित हुई लड़की हूँ लड़ सकती हूँ मैराथन का प्रथम आयोजन हुआ था जिस प्रतियोगिता में महिलाओं बेटियों ने भारी संख्या में बढ़ चढ़कर भाग लिया ,और काफी सफल कार्यक्रम सम्पन्न हुआ,प्रदेश में महिलाओं के जागरूकता और सशक्तिकरण का संदेश का श्रेय कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी को जाता है ,प्रियंका गांधी जी द्वारा राजनैतिक भागीदारी में 40 प्रतिशत टिकट महिलाओं को देने की प्रतिज्ञा के बाद महिलाओं में एक उम्मीद और भरोसा पैदा हुआ है ।

ममता ने बताया कि प्रथम तीन विजेताओं को इलेक्ट्रॉनिक स्कूटी प्रोत्साहन पुरुस्कार के रूप दी जाएगी, और उसके बाद के क्रम संख्या 4 से क्रम संख्या 25 तक के विजेताओं को स्मार्टफोन दिए जाएंगे, उसके बाद के प्रतिभागियों को 100 फिटनेस बैंड , 1000 मेडल दिए जाएंगे, प्रतियोगिता में कुल 128 पुरस्कार दिए जायेंगें और प्रत्येक प्रतिभागी लड़की को मैराथन प्रतिभागिता प्रमाण पत्र और लड़की हूँ लड़ सकती हूँ लिखी टी-शर्ट और बैच एवं बैंड दिए जाएंगे। कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी का इस प्रतियोगिता को कराने के पीछे का जो संदेश है की लड़कियां समाज में अपने स्थान को बनाने के लिए लड़ सकती हैं और लड़कर जीत भी सकती हैं।