• ब्यूरो

कांग्रेसजनों ने लिया पंडित नेहरू के चिन्हों पर चलने का संकल्प

कांग्रेस कार्यालय पर मनाई गयी जवाहरलाल नेहरू की जयंती

लखनऊ, सोशल टाइम्स। रविवार को देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती पर कांग्रेसजनों ने पंडित नेहरू को याद कर उनके विचारों की अभिव्यक्ति और उनके पद चिन्हों पर चलने का संकल्प लिया। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय ’नेहरू भवन’ में जयंती पर मुख्य रूप से पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी, पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ला, सतीश अजमानी, मीडिया विभाग के वाइस चेयरमैन पंकज श्रीवास्तव, मीडिया संयोजक/प्रवक्ता अंशू अवस्थी, लालती देवी, गिरीश मिश्रा, सेवादल संगठक प्रमोद पांडे सहित कांग्रेस जनों ने पण्डित जवाहर लाल नेहरू के चित्र पर श्रद्धासुमन - पुष्प अर्पित कर उनके विचारों और आधुनिक भारत के निर्माण में भूमिका पर प्रकाश डाला। संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए वरिष्ठ नेता पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी ने पंडित नेहरू के व्यक्तित्व और कार्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन की लड़ाई के दौरान 9 वर्ष जेल में बिताने और पूर्ण स्वराज को सबसे पहली बार प्रस्ताव कर अंग्रेजी साम्राज्य की नींव हिला कर रख दी । पंडित जी का आजादी के बाद भारत को पुनः वैश्विक स्तर पर शक्तिशाली भारत की पहचान दिलाने में योगदान अविस्मरणीय है। पण्डित नेहरू की बनाई संवैधानिक, औद्योगिक व वैज्ञानिक संस्थाएं आज भी राष्ट्र को जीवन्तता प्रदान कर रही हैं।

मीडिया विभाग के वाइस चेयरमैन पंकज श्रीवास्तव ने पंडित नेहरू के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि पंडित जवाहरलाल नेहरू ने भारत में आदर्श लोकतंत्र की स्थापना की और भारत के सर्वांगीण विकास के लिए हर एक पक्ष को मजबूत करने के लिए आधारशिला रखी चाहे वह शैक्षिक क्षेत्र हो चाहे वह कृषि का क्षेत्र हो चाहे विज्ञान का क्षेत्र हो। डिजिटल मीडिया संयोजक प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने पंडित नेहरू की जयंती पर बोलते हुए कहा पंडित नेहरू का संपूर्ण जीवन स्वतंत्रता संघर्ष और आधुनिक भारत के निर्माण की महागाथा है, उन्होंने विभिन्नता में एकता के सिद्धांत के सूत्र से 565 रियासतों को विभिन्न जाति-धर्म भाषा और क्षेत्र के बावजूद एक सूत्र में बांधकर भारत को मूर्त रूप दिया और गुट निरपेक्ष आंदोलन का नेतृत्व कर उन्होंने विश्व पटल पर भारत को नई पहचान दी। प्रवक्ता विकास श्रीवास्तव ने कहा कि पंडित नेहरू ने भारत माता के बारे में जो परिभाषा दी थी उसी विचार से पूरे देश के लोगों के बीच में प्रेम सद्भाव अहिंसा और करुणा को बढ़ाकर देश को मजबूत किया जा सकता है। पंडित नेहरू कहते थे कि भारत माता देश के 36 करोड़ लोग हैं और भारत माता की जय तभी होगी जब देश के रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति आर्थिक रूप से समृद्ध व सामाजिक रूप से समानता पाए और सभी को आजादी में हिस्सेदारी मिले। किसानों की जय , जवानों की जय और श्रमिकों की जय ही सच्ची भारत माता की जय होगी। कार्यक्रम में पूर्व राज्यसभा सदस्य श्री प्रमोद तिवारी, पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ला, पूर्व विधायक सतीश अजमानी, मीडिया विभाग के वाइस चेयरमैन पंकज श्रीवास्तव, प्रशासन प्रभारी योगेश दीक्षित, संगठन प्रभारी दिनेश सिंह, डिजिटल मीडिया संयोजक अंशू अवस्थी, प्रदेश प्रवक्ता विकास श्रीवास्तव, राजेन्द्र प्रसाद पांडे, अर्शी रजा, उबैद नासिर, रामशंकर त्रिपाठी, प्रभाकर मिश्र, सोनू पंडित, सुनील दुबे,रफत फातिमा, उमेश त्रिपाठी, अंशुमान तिवारी, आदेश सिंह, अभिषेक राज, चर्चिल, शोएब, सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।