• ब्यूरो

कोरोना की तीसरी लहर: मेडिकल कॉलेजों में 6500 पीआईसीयू बेड तैयार


लखनऊ, सोशल टाइम्स। कोरोना की संभावित तीसरी लहर को लेकर मेडिकल कॉलेजों में पीडियाट्रिक इंटेसिव केयर यूनिट (पीआईसीयू) में 6500 बेड तैयार किए गए हैं, वहीं 15 अगस्त तक 200 अतिरिक्त बेड और तैयार किए जाएंगे। सभी बेडों पर वेंटिलेटर की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही 4600 डाक्टरों को विशेष ट्रेनिंग और मेडिकल कॉलेजों में तैनात 8653  पैरा मेडिकल स्टॉफ  को प्रशिक्षित किया जा चुका है। इसमें वार्ड ब्वॉय, नर्स, तकनीशियन आदि शामिल हैं। अब तक स्वीकृत 548 आक्सीजन प्लांट में 239 प्लांट सक्रिय हो चुके हैं। राज्य चिकित्सा परामर्शदाता समिति ने अगस्त में तीसरी लहर की संभावना जताई है। कुछ जिलों में दो दिन से मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है। तीसरी लहर को बच्चों के लिए ज्यादा खतरनाक माना गया है। ऐसे में सरकार की ओर से पुख्ता व्यवस्था की गई है। 

बता दें कि ज्यादातर जिला अस्पतालों में पीआईसीयू तैयार कर उसमें वेंटिलेटर सहित अन्य उपकरण लगाए गए हैं, लेकिन सीएचसी पर अभी कार्य अधूरा है। महानिदेशक स्वास्थ्य डॉ. डीएस नेगी ने बताया कि तीन हजार से अधिक पीआईसीयू बेड तैयार किए गए हैं। इतने ही अतिरिक्त बेड तैयार किए जाएंगे। जहां उपकरण नहीं पहुंचे थे, वहां भिजवाए जा रहे हैं। वार्ड में बच्चों को घर जैसा माहौल देने के लिए दीवारों पर कार्टून करेक्टर बनाए जा रहे हैं। बच्चों के लिए खिलौने, ड्राइंग बुक्स की व्यवस्था की गई है।