• ब्यूरो

सपा सरकार बनने पर बिजली सस्ती होगी, नौजवानों को रोजगार मिलेगा: अखिलेश

कन्नौज: सपा अध्यक्ष ने किया कप्तान सिंह की प्रतिमा का अनावरण

कन्नौज, सोशल टाइम्स। बुधवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पूर्व विधायक कप्तान सिंह यादव की पुण्यतिथि पर उनकी प्रतिमा का भी अनावरण किया। इस अवसर पर कप्तान सिंह को याद करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सिद्धांतों पर चलने वाले स्पष्टवादी नेता थे। उनके रहते इस क्षेत्र में समाजवादी प्रत्याशी ही जीतते रहे है। डाॅ0 लोहिया, नेताजी मुलायम सिंह यादव और स्वयं मुझें यहां की जनता ने बहुमत से निर्वाचित किया हैं। वहीं यादव ने कहा कि कि प्रदेश में समाजवादी सरकार बनने पर बिजली सस्ती होगी, नौजवानों को रोजगार मिलेगा और बड़े पैमाने पर नौकरियों की भर्ती होगी। प्रदेश में कानून व्यवस्था चौपट है। भाजपा के गुंडे बहन-बेटियों की साड़ी खींच रहे हैं। लोगों के घरों पर बुलडोजर चलाया जा रहा है। ये सरकार हमारी और गरीबों की सरकार नहीं है। उन्होंने कहा महिलाओं के लिए समाजवादी पेंशन बढ़ाई जाएगी। समाजवादी पार्टी के चुनाव घोषणापत्र में किसानों, नौजवानों, महिलाओं के लिए तमाम योजनाएं रहेंगी। उन्होंने कहा कि तमाम लोग समाजवादी पार्टी में आ रहे हैं। भाजपा के प्रति लोगों का आकर्षण नहीं बचा है। भाजपा अपने वादे में खरी नहीं उतरी है। समाजवादी विकास की राजनीति करती है। भाजपा नफरत फैलाती है।

अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में सरकार बनने पर समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश स्तर पर जातीय जनगणना कराएगी और पिछड़ों को उनका हक और सम्मान दिलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार पिछड़ों की गणना नहीं कराना चाहती है, क्योंकि वह जानती है कि इससे पिछड़े अपना हक और सम्मान मांगेंगे। समाजवादी पार्टी सहित तमाम दल चाहते हैं कि पिछड़ों की गिनती हो जाए, लेकिन भारतीय जनता पार्टी जातीय गणना नहीं कराना चाहती है। पिछड़े और दलितों की यह सबसे बड़ी मांग है। यादव ने कहा कि बीजेपी सरकार में उत्तर प्रदेश में अपराध बढ़ा है। मुख्यमंत्री अपराध के मामले में झूठ बोलते हैं। उन्हें एनसीआरबी के आंकड़ों की जानकारी नहीं है। वे एनसीआरबी का रिकॉर्ड नहीं देखते हैं। महिलाओं पर सबसे ज्यादा अत्याचार और अन्याय यूपी में हो रहा है। मोहम्मद आज़म खान को फर्जी मुकदमें में फंसा करके जेल में रखा गया है। सबसे ज्यादा कस्टोडियल डेथ यूपी में हुई। मानवाधिकार की सबसे ज्यादा नोटिस यूपी सरकार को मिली। मुख्यमंत्री हर सप्ताह अपने गृह क्षेत्र गोरखपुर जाते हैं। वहां अपराध लगातार बढ़ रहे हैं। एक व्यापारी की पुलिस पिटाई से मौत हो गई, इसकी जिम्मेदार यह सरकार है। 40 से ज्यादा संतो की हत्या हो चुकी है।