• ब्यूरो

यूपी: विधानसभा में पहली बार चुने गए सदस्यों का प्रबोधन हुआ शुरू


लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान सभा सचिवालय द्वारा विधान सभा के सदस्यों को प्रशिक्षण दिये जाने के उद्देश्य से वर्ष 1989 से प्रबोधन कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसी क्रम में इस कार्यक्रम का उद्देश्य नवनिर्वाचित सदस्यों को संसदीय परंपराओं, कार्यविधियों और प्रक्रियाओं के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा करने और उनका विश्लेषण करने तथा संसदीय संस्थाओं के परिचालन तंत्र की जानकारी प्राप्त करने का अवसर प्रदान करना है।

कार्यक्रम का उद्घाटन शुक्रवार को लोक सभा, अध्यक्ष ओम बिरला द्वारा विधान सभा मण्डप में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , विधान सभा के अध्यक्ष सतीश महाना एवं नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव व संसदीय कार्यमंत्री सुरेश कुमार खन्ना की उपस्थिति में किया गया।

विधान सभा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सर्वप्रथम ई-विधान कार्यक्रम को लागू करने का शुभारम्भ किया जा रहा है। उन्होंने लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला का अभिनन्दन करते हुए कहा कि अपने व्यस्ततम समय में से हम सबके बीच आकर अपने मार्गदर्शन व कार्यक्रम का उद्घाटन करके हम सबको अनुगृहीत किया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि उनकी प्रेरणा, आशीर्वाद व नेतृत्व में मात्र डेढ़ माह के अंदर पेपरलेस विधान सभा सत्र प्रारम्भ करने के लिए सम्पूर्ण प्रबन्ध के साथ दिन रात इसकी मानीटरिंग करके हम इस कार्य को विधान सभा व एनआईसी के अधिकारियों कर्मचरियों के सहयोग से पूर्ण कर सके।

महाना ने नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव का भी उनके सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने उप मुख्य मंत्री ब्रजेश पाठक सहित सभी सम्मानित मंत्रीगण एवं सदस्यगण के प्रति हृदय से आभार व्यक्त करते हुए कहा कि विज्ञान और प्रौद्योगिकी के युग में यह आवश्यक है कि संवैधानिक संस्थाओं का आधुनिकीकरण और डिजिटलीकरण करने के लिए आगे बढ़ा जाये, क्योंकि इससे कार्य प्रणाली में एकरूपता, पारदर्शिता और तकनीकी दक्षता आती है। हमारे देश के सभी विधान मण्डलों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन ‘वन नेशन, वन डिजिटल प्लेटफार्म’ पर नेशनल ई-विधान एप्लीकेशन का निर्माण किया गया है, जो पूरे देश की विधान सभाओं को एक ही स्थान पर एक ही पोर्टल लाता है। नेवा का अर्थ है ‘नेशनल ई-विधान एप्लीकेशन’। इस एप्लीकेशन के माध्यम से सदन के सदस्यों को देश के सभी विधान मण्डलों से संबंधित विभिन्न सूचनायें, जैसे प्रक्रिया अधिनियम, सदन की कार्य पद्धति, सूचनायें, विधेयक, प्रश्नोत्तर प्रणाली, समिति प्रणाली की पूर्ण सूचना एक जगह पर प्राप्त हो सकेगी।

संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव ज्ञापित किया गया। इस अवसर पर प्रमुख सचिव, विधान सभा प्रदीप कुमार दुबे व अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित रहे I