• ब्यूरो

हज़रतगंज पुलिस ने आत्मदाह की कोशिश करने वाले अधेड़ को बचाया

एसीपी और इंस्पेक्टर ने अधेड़ को रोका

लखनऊ, सोशल टाइम्स। हजरतगंज के लोकभवन के पास आत्मदाह करने पहुंचे अधेड़ को पुलिस ने बचाया। पुलिस ने धर्मराज नामक व्यक्ति को इलाज के लिए सिविल अस्पताल भेजा। गुरुवार को हजरतगंज में उन्नाव के सेखपुर नरी निवासी धर्मराज लड़खड़ाते हुए लोक भवन के पास पहुंचे। वहां पहुंचते ही धर्मराज ने आत्मदाह करने  की कोशिश की। इसे देखते ही एसीपी हजरतगंज राघवेंद्र कुमार मिश्रा और इंस्पेक्टर श्यामबाबू शुक्ला ने हमराहियों के साथ ने उन्हें पकड़ लिया। उन्हें कैपिटल तिराहे के पास स्थित पुलिस बूथ में लेकर गये। जहां पूछताछ की। पुलिस के पूछताछ शुरू करते ही धर्मराज फफक कर रो पड़े। पुलिस ने पानी व चाय पिलाई। इसके बाद सामान्य होने पर पूछताछ की। धर्मराज ने बताया कि उनके हिस्से में साढ़े तीन बीघा जमीन उसकी भाभी राजरानी व भतीजे सुनील ने कब्जा कर बेच दिया है। तहसील दिवस पर प्रार्थनापत्र दिया था लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। उन्नाव कोतवाली में भी तहरीर दी। पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इसकी जानकारी होने पर एक सप्ताह पहले भतीजों व भाभी ने मिलकर पिटाई की। जिससे वह घायल हो गये।

धर्मराज सिर्फ यही कह रहे थे कि मुख्यमंत्री से मिलना है। अगर नहीं मिला तो आत्महत्या कर लूंगा। पुलिस अधिकारियों ने उनको समझाकर शांत कराया। पुलिस ने शहर कोतवाल उन्नाव से बातचीत करके धर्मराज को कार्रवाई का आश्वासन दिया। इइलाज के बाद बाद उनको किराए व खर्च के लिए कुछ आर्थिक सहायत कर उन्नाव भेज दिया गया।