• ब्यूरो

बजट में डाटा साइंस एवं मशीन लर्निग में शिक्षण प्रशिक्षण कराया जाना प्रस्तावित: आशीष पटेल


लखनऊ। प्रदेश के प्राविधिक शिक्षा, उपभोक्ता संरक्षण एवं बांट माप मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आशीष पटेल ने मुख्यमंत्री को विधानसभा में सभी वर्गों के लिए बजट लाने के लिए धन्यवाद दिया है। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना द्वारा विधानसभा में प्रस्तुत किए गए बजट गरीब, किसान, श्रमिक, नौजवान, महिलाओं सहित समाज के सभी वर्गों के हितैषी है।


उन्होंने बताया कि इस बजट में प्रदेश में डिप्लोमा स्तरीय 198 राजकीय एवं 19 अनुदानित संस्था अर्थात 217 संस्थाएं हैं जिनमें से 168 संस्थाओं में सत्र 2021-2022 से प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। 49 राजकीय पॉलीटेक्निक निर्माणाधीन / अवस्थापना की प्रक्रिया में है जिन्हें निकट भविष्य में पी0पी0पी0 मोड पर संचालित किया जायेगा। वर्तमान में 1266 निजी क्षेत्र की डिप्लोमा स्तरीय संस्थाओं में छात्र/छात्राओं को प्रवेश दिया जा रहा है। वर्तमान राजकीय अनुदानित एवं निजी क्षेत्र की समस्त संस्थाओं को सम्मिलित करते हुये कुल प्रवेश क्षमता 1,26,436 है।


प्रदेश सरकार की वन ट्रिलियन डॉलर इकोनामी की योजना के क्रम में छात्र/छात्राओं को अधिक रोजगार तथा इमर्जिंग टेक्नोलॉजी आधारित उद्योग हेतु मैन पावर उपलब्ध कराने के दृष्टिगत सत्र 2022-2023 में "न्यू एज ट्रेडस्" के अन्तर्गत 04 पाठ्यक्रम यथा डाटा साइंस एवं मशीन लर्निग, इण्टरनेट ऑफ थिग्स साइबर सेक्यूरिटी एवं ड्रोन टेक्नोलाजी में शिक्षण प्रशिक्षण कराया जाना प्रस्तावित किया गया है। सम्पर्क सूत्र: धर्मवीर खरे