• संवाददाता

बदायूं: महान दल की जनाक्रोश रैली हुई आयोजित

केशव देव मौर्य व धर्मेंद्र यादव रहें उपस्थित

बदायूं, सोशल टाइम्स। शनिवार को महान दल की जनाक्रोश रैली हाफिज सिद्दीकी इस्लामियां इंटर कॉलेज के मैदान में आयोजित की गई, रैली की अध्यक्षता पार्टी के नेता धर्मेन्द्र यादव ने की व मुख्य अथिति के रूप में महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव देव मौर्य व विशिष्ट अथिति के रूप में पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के अध्यक्ष तथा सदस्य विधान परिषद डाॅ0 राजपाल कश्यप उपस्थित रहे। महान दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव देव मौर्य ने कहा पिछला विधान सभा चुनाव भाजपा ने पिछड़े वर्ग के नेता को मुख्यमंत्री बनाने के वादे के साथ लड़ा। किन्तु बाद में उनको अपमानित किया गया। भाजपा की मानसिकता पिछड़ा विरोधी है। अब 2022 के चुनाव में अखिलेश यादव को ही मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। अध्यक्षता करते हुए पार्टी के नेता धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि भाजपा नेताओं ने हमेशा पिछड़ी बिरादरी के लोगों को वोट के रूप में इस्तेमाल किया है परंतु समाज के वर्ग के उत्थान व कल्याण के लिये समाजवादी पार्टी में सदैव ही सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष किया है। प्रदेश का किसान, छात्र, नौजवान, व्यापारी सहित समाज का हर वर्ग भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों से बुरी तरह त्रस्त है और विकास के लिये पिछली सपा सरकार को याद करके अखिलेश यादव को 2022 में मुख्यमंत्री बनाने का संकल्प ले चुके हैं।

डाॅ0 राजपाल कश्यप ने कहा कि केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकारें आरक्षण को खत्म करने का षड्यंत्र कर रहीं है क्योंकि भाजपा चाहती है कि समाज के दबे कुचले, पिछड़े, दलित, अल्पसंख्यक कोई भी तरक्की न कर सके। उन्होंने आगे कहा कि पूरे प्रदेश में मौर्य, शाक्य, कुशवाहा, प्रजापति, सैनी, कश्यप, काछी, मल्लाह आदि समाजवादी पार्टी के साथ हैं तथा आने वाले 2022 के विधानसभा चुनाव में भाजपा का सफाया करके समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिये तत्पर है। इस मौके पर सपा जिलाध्यक्ष प्रेमपाल सिंह यादव, महान दल के प्रदेश अध्यक्ष शिवकुमार यादव, अल्पसंख्यक सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ मौलाना यासीन उस्मानी, सहसवान से विधायक ओमकार सिंह यादव, पूर्व विधायक आशीष यादव, पूर्व विधायक आशुतोष मौर्य, पूर्व विधायक विनोद शाक्य, पूर्व मंत्री विमल कृष्ण अग्रवाल, वरिष्ठ सपा नेता फखरे अहमद शोबी, अवनीश यादव, हिमांशु यादव ने भी अपने विचार व्यक्त किये।