• संवाददाता

जीव आश्रय ने की नई परंपरा की शुरुआत

अब पशुओं का भी हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार

लखनऊ, सोशल टाइम्स। अब पशुओं का भी हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार कर रही है जीव आश्रय संस्था जिससे पशुओं के प्रति लगाव रखने वालो के लिए अपने प्रिय पशु का समस्त रीति रिवाजों से अंतिम संस्कार करवाना हुआ मुमकिन।


लोग संस्था से संपर्क कर के अपने प्रिय पशु का विधिवत अंतिम संस्कार गाय के गोबर से निर्मित कंडो द्वारा करवा सकते है जो की पर्यावरण के लिए भी सहयोग जैसा रहेगा।।


स्वीटी जो कि एक बहुत ही प्यारी मादा श्वान थी और साहिल चावला के सभी परिजनों ने बचपन से बहुत ही प्यार-दुलार के साथ रखा और आज 15 साल से अधिक उम्र तक अपना जीवन जीने के पश्चात स्वीटी ने अंतिम सांसे ली और जीव आश्रय संस्था जो कि लखनऊ शहर में बेसहारा जीवो के इलाज और मदद के क्रम में विगत 11 सालों से काम कर रही हैं आज स्वीटी के अंतिम संस्कार में एक नयी रीति और नई सोच का विस्तार करते हुए स्वीटी को अंतिम विदाई दी।