• ब्यूरो

प्रदेश भर में हुआ खिलाडी घेरा कार्यक्रम का आयोजन

मेजर ध्यानचंद के जन्म दिवस के अवसर पर हुआ आयोजन


लखनऊ, सोशल टाइम्स। रविवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशानुसार राजधानी सहित प्रदेश के तमाम जनपदों में ‘खिलाड़ी घेरा‘ कार्यक्रम का आयोजन हुआ। इसमें बड़ी संख्या में खिलाड़ियों ने भी भागीदारी की। गौरतलब है कि ओलम्पिक खेलों में तीन बार स्वर्ण पदक दिलाने वाले हाकी के जादूगर मेजर ध्यान चंद के जन्म दिवस पर ‘राष्ट्रीय खेल दिवस‘ मनाया जाता है। उनके पुत्र अशोक को समाजवादी सरकार ने यश भारती सम्मान भी दिया था।

सपा प्रवक्ता ने बताया कि समाजवादी सरकार के समय अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का इकाना स्टेडियम तथा कई जनपदों में मिनी स्टेडियम बने थे। झांसी स्टेडियम में एस्ट्रोटर्फ बिछा था। खेल का बजट बढ़ा था। भाजपा सरकार ने बजट घटा दिया है और एक भी नया स्टेडियम नहीं बना। सपा सरकार में ओलंपिक तथा एशियाई खेल विजेताओं को पुरस्कार राशि भी बढ़ा कर दी गई थी। भाजपा द्वारा चुनाव में बड़े-बड़े वादे किए गए थे लेकिन खिलाड़ियों के हित में एक भी फैसला नहीं लिया गया। खिलाड़ी कोरोना काल में पोषण आहार, हास्टल सुविधा से भी हाथ धो बैठे। वे मजबूरी की जिंदगी जी रहे है। उन्होंने बताया कि समाजवादी पार्टी के खिलाड़ी घेरा कार्यक्रम में आज झांसी के मेजर ध्यान चंद स्टेडियम में बड़ी संख्या में खिलाड़ी जुटे।

साथ ही समाजवादी स्पोर्ट्स विंग के प्रभारी हसनउद्दीन सिद्दीकी ने खिलाड़ियों की समस्याओं पर चर्चा की व उन्हें सम्मानित किया गया। स्कूली बच्चों ने बैण्ड नगाड़ो के साथ शोभा यात्रा निकाली। लखनऊ में सपा महानगर अध्यक्ष सुशील दीक्षित ने खिलाड़ियों के साथ बैठक की। जिला संगठन के पदाधिकारी भी इसमें मौजूद रहे। इसके अलावा चैम्पियंस साइक्लिंग क्लब के महासचिव अनुराग बाजपेई के नेतृत्व में तमाम खिलाड़ियों ने ईको गार्डेन में घेरा बनाकर प्रदर्शन किया। साइकिल पर पोस्टर, बैनर, पैम्पलेट लेकर वे शामिल हुए। सपा ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में खिलाड़ी घेरा बनाया एवं खिलाड़ियों की समस्याओं को उजागर किया। मेरठ, एटा, जौनपुर ,मऊ, मिर्ज़ापुर, कानपुर, इटावा समेत अन्य जिलों में कार्यक्रम संपन्न हुआ।