• संवाददाता

विषेश सचिव के पत्र पर वकीलों की नाराजगी, किया कार्य बहिष्कार


लखनऊ। राजधानी के अधिवक्ताओं का फैसला, बुधवार को नही करेंगे कार्य। लखनऊ बार एसोसिएशन की एक बैठक में ये फैसला लिया गया। बैठक में अध्यक्ष जी. एन. शुक्ला चच्चू एवं महामंत्री जितेंद्र सिंह यादव जीतू की उपस्थिति में हुई। महामंत्री जीतू यादव ने बताया कि बीती 14 मई को उत्तर प्रदेश शासन के विशेष सचसचिव प्रफुल्ल कमल द्वारा समस्त जिलाधिकारी, समस्त जनपद न्यायाधीश एवं अपर मुख्य न्याय सचिव, ग्रह विभाग को जारी किया गया था जिसमे जनपद न्यायालायों में कार्य कर रहे अधिवक्ताओं की ओर से किये जाने वाले अराजकतापूर्ण कृत्यो का तत्काल संज्ञान लिया जाना सुनिश्चित करते हुए सम्बन्धित अधिवक्ता के विरुद्ध नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही करने का आदेश किया गया था। जीतू ने बताया कि जबकि अधिवक्ता विद्वान होता है और न्यायालयों में अराजकता नहीं फैलता है बल्कि सम्मानित अधिवक्ता गरीयों एवं वंचितों को न्याय दिलाने के लिए तत्पर रहता है। इस कारण लखनऊ बार एसोसिएशन उपरोक्त पत्र का पूर्ण रूप से बहिष्कार करती है। इसी के चलते आज बुधवार को लखनऊ बार एसोसिएशन के समस्त अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहेगे। लखनऊ बार एसोसिएशन ने चेतावनी दी है कि यदि उपरोक्त पत्र पर सम्बन्धित अधिकारी द्वारा अधिवक्ताओ से माफी नही मांगी जाती है तो लखनऊ जनपद के समस्त अधिवक्ता अनिश्चित कालीन हड़ताल करने के लिए बाध्य होगे।