• ब्यूरो

सपा कार्यालय पर मनाई गई महारानी अहिल्या बाई होल्कर की जयंती


लखनऊ। समाजवादी पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में आज महारानी अहिल्या बाई होल्कर की जयंती सादगी से मनाई गई। उनके चित्र पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तथा राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी ने माल्यार्पण कर नमन किया।    

महारानी अहिल्या बाई होल्कर के रण कौशल और प्रशासनिक क्षमताओं का उल्लेख करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि रानी अहिल्या बाई ने आक्रांताओं से मालवा राज्य की सुरक्षा के लिए स्वयं सेना का नेतृत्व किया था। होल्कर वंश के राज की स्थापना 1740 में मल्हार राव होल्कर ने की थी।    

वीरांगना अहिल्याबाई होल्कर का जन्म 31 मई सन् 1725 ई0 में महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में हुआ था। मराठा समुदाय के होल्कर राजघराने में शादी के बाद वे मालवा आ गई। सन् 1766 में मालवा का उन्होंने शासन सूत्र संभाला। देश भर में अलग-अलग स्थानों पर उन्होंने मंदिरों, घाटों का निर्माण कराया। 13 अगस्त 1795 ई0 को उनका निधन हुआ।    

पूर्व मंत्री दयाराम पाल समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल सहित जय शंकर पाण्डेय, अरविन्द कुमार सिंह, डॉ0 राजपाल कश्यप, धर्मेन्द्र सोलंकी, विकास यादव ने भी पुष्पांजलि अर्पित की।    

इस अवसर पर प्रमुख रूप से त्रिवेणी प्रसाद पाल,  जानकी पाल, डॉ0 अवधनाथ पाल, रमेश चन्द्र बघेल, महाराज सिंह धनगर, वीरेन्द्र बहादुर पाल, विजय बहादुर पाल, तुलसी राम धनगर, जगपाल दास गुर्जर, प्रवीण बघेल, के.के. पाल, राजेन्द्र पाल, डॉ0 विनोद पाल, पंकज पाल, राजेन्द्र धनगर, आरिफ सिद्दीकी, सुमित पाल, हिमांशु संघर्षी की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।