• सम्पादक

“इसको वापस ले लीजिये, किसी के काम आजाएगा,” ये कहकर लौटा दिया ऑक्सीजन सिलेंडर



लखनऊ। इसको वापस ले लीजिये किसी के काम आजाएगा, ये कहकर राम ने पिता की मृत्यु के बाद ऑक्सीजन सिलेंडर वापस कर दिया जिससे वो किसी ज़रूरतमंद के काम आ सके।



जहाँ कोरोना के कारण चारो ओर टेंशन का माहौल है व ऑक्सीजन की कालाबाज़ारी की खबरों से मानवता शर्मसार हो रही है वहीं राजधानी में दिल को सुकून देने वाली खबर सामने आयी। इन दिनों समाजवादी पार्टी युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास यादव निःशुल्क ऑक्सीजन वितरण कर रहे हैं। हर तरफ ऑक्सीजन की किल्ल्त व उसकी कमी से हो रही मौतों के चलते उन्होंने कुछ दिन पूर्व यह सिलसिला शुरू किया था।



मंगलवार देर रात राम कुमार वर्मा नामक व्यक्ति ने विकास से अपने पिता के लिए निःशुल्क ऑक्सीजन लिया। पर दुर्भाग्यपूर्वक बुधवार दोपहर को उनके पिता की मृत्यु हो गयी। जिसके बाद उनके पास वह ऑक्सीजन बच गया। पारिवारिक क्षति होने के बाद भी उन्होंने सिलेंडर विकास को लाकर वापस कर दिया और कहा कि इसे रख लीजिये ये किसी और के काम आजायेगा। पिता का अंतिम संस्कार करने के बाद ही राम ऑक्सीजन सिलेंडर वापस लेकर विकास के घर पहुँच गए थे । राम ने बताया कि जब वह अपने पिता के लिए ऑक्सीजन तलाश रहे थे तब जस्टिस माथुर ने उनको विकास यादव का नंबर दिया और उनसे बात करने को कहा। बता दे कि राम भी पेशे से एक वकील है।

इस घटना पर विकास ने बताया कि राम को पिता की मृत्यु के बाद ऑक्सीजन सिलेंडर लिए अपने घर पर खड़ा देख मै चौक गया। इस वक्त जगह जगह ऑक्सीजन की कालाबाज़ारी की खबरे सामने आ रही है जो मन को बहुत विचलित करती है। पर देखा जाये तो कुछ राम जैसे लोग भी है जो अपनी व्यक्तिगण क्षति को भूलकर दूसरो का भला सोचते है।

कुछ दिन पहले राम कुमार ने अपने सोशल मिडिया अकाउंट से विकास को धन्यवाद किया था कि इस मुश्किल दौर में भी वह निःशुल्क ऑक्सीजन वितरण कर रहें है।

बता दे कि विकास यादव सपा प्रमुख अखिलेश यादव के निर्देशानुसार ज़रूरतमंदो में फ्री ऑक्सीजन वितरण कर रहें है। विकास की ऑक्सीजन कैम्प लगाने की भी योजना है जो वो आने वाले दिन में लगा सकते है जिससे बड़ी संख्या में लोगो को ऑक्सीजन उपलब्ध हो सकेगा।