• एजेंसी

नवनीत सहगल ने कन्नौज के ओडीओपी उत्पाद इत्र के नये स्वरूप को किया लांच



लखनऊ (न्यूज़ ऑफ इंडिया) आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर अपर मुख्य सचिव, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम नवनीत सहगल ने कन्नौज के ओडीओपी उत्पाद इत्र के नये स्वरूप को लांच किया। लोक भवन में आयोजित कार्यक्रम में सहगल ने कन्नौज के 08 इत्र उद्यमियों के 09 नए उत्पाद तिरंगा अतर, अतर मेरी मिट्टी-75,  यू0डी0-75, हिंद शमाम, वंदेमातरम मोतिया,  सेंटेट ट्राई कलर टेराजो, अतर गंगा, आजादी-75 एवं ट्राई कलर अगरबत्ती उत्पाद का शुभारंभ किया।

     अपर मुख्य सचिव ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नये उत्पाद लांच किये जाने हेतु उद्यमी प्रसंशा के पात्र हैं। कन्नौज का इत्र एक जिला-एक उत्पाद (ओ0डी0ओ0पी0) योजना के तहत चयनित उत्पाद है। कन्नौज के इत्र की सुगंध देश विदेश में फैली हुई है। राज्य सरकार ओ0डी0ओ0पी0 योजना के तहत इत्र उद्यमियों की हर संभव सहायता कर रही ही। उन्होंने कहा कि कन्नौज में इत्र पार्क की स्थापना कराई जा रही। ओडीओपी उत्पादों की मार्केटिंग और ब्रांडिंग के लिए ऑनलाइन मार्केटिंग के साथ-साथ प्रदेश के विभिन्न शहरों मंे 1000 से अधिक ओडीओपी शोरूम खोलने की योजना है। उन्होंने कहा कि इत्र की ग्लोबल स्तर पर ब्रांडिंग हेतु शीघ्र कन्नौज में इत्र कारोबारियों के साथ ब्लॉग इन्फ्लुएंसर्स की मीट कराई जायेगी। साथ ही राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के लेखकों को कन्नौज के इत्र पर लिखने के लिए आमंत्रित किया जायेगा। उद्यमियों को सुविधा हेतु क्लस्टर डेवलपमेंट योजना के तहत कन्नौज सामान्य सुविधा केन्द्र भी स्थापित कराया जायेगा। सहगल ने कहा कि अगले सप्ताह वे स्वयं कन्नौज का भ्रमण करेंगे और उद्यमियों से मिलकर इत्र के कारोबार को और अधिक बढ़ाने हेतु सुझाव लेगें।

     स्वतंत्रता दिवस अवसर पर जिन उत्पादों को लांच किया गया है, उनकी अलग ही विशिष्टतायें है। गौरी सगंधा प्रा0 लि0 का ‘‘तिरंगा अतर’’ इत्र गुलाब, मिट्टी व वेला की सुगंध को संयुक्त रूप से तैयार किया गया है। इसकी सुगंध मन मस्तिक में स्फूर्ति उत्पन्न करती है। शक्ति संदल वुड का ‘‘अतर मेरी मिट्टी-75’’ कुछ ज्यादा ही खास है। 75 कि0ग्रा0 मिट्टी से पारंपरिक जल-आसवन तकनीकी द्वारा बनाया गया यह विशेष इत्र है। मिट्टी की सोंधी खुशबू वाला यह पहला स्वदेशी उत्पाद है। यू0डी0-75 एक मार्डन अतर आधारित डियो है। इसकी सुगंध के साथ 7.5 घंटे बनी रहती है। इसी प्रकार कन्नौज अतरर्स का ‘‘हिन्द शमामा इत्र’’ देश भर से एकत्रित जड़ी-बूटियों और मसालों से तैयार किया गया है। इसकी खुशबू लगभग 12 घण्टे तक बनी रहती है। गौरी इण्टरप्राइजेज का ‘‘वंदेमातर्म मोतिया’’ बेला फूल संदल से बना हुआ अद्भुत उत्पाद है। यह त्वचा के गुणों से भरपूर है। इण्डियन नेचुरल्स का ‘‘सेन्टेट ट्राई कलर टेराजो’’ उत्पाद विभिन्न तरह के पत्थर जैसे क्वार्टज, ग्रेनाइड, शीश इत्यादि से बनकर इत्र की खुशबू को समाहित कर दैनिक उपयोग के लिए बनाया गया है। ‘‘अंतर गंगा’’ गंगा नदी के किनारे होने वाले पुष्पों के मिश्रण से तैयार किया इत्र है। आजादी-75 तथा ट्राईकलर अगरबत्ती भी सुगंध बिखेरेंगी।