• ब्यूरो

सरकारी नीतियों का फायदा केवल बड़े उद्योगपतियों व्यापारियों को हो रहा- प्रियंका गांधी

बीजेपी सरकारें झूठ विज्ञापनों पर करोड़ो खर्च कर झूठ परोस रही

जयपुर, सोशल टाइम्स। उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास से मात्र 10-15 किलोमीटर दूर, पूरे वर्ष देश का किसान बैठा रहा । किसान एमएसपी की मांग तथा तीनों काले कृषि कानूनों को वापस लेने की गुहार लगाता रहा लेकिन प्रधानमंत्री को किसानों से मिलने के लिए समय नहीं मिला। दोगुनी आय का वादा करने वाली बीजेपी सरकार ने सबसे ज्यादा किसानों को ठगा है। आज किसान की आय मात्र ₹27 है।

रविवार को आयोजित कांग्रेस की महंगाई हटाओ महारैली’’ में रैली को सम्बोधित करते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि मुझे गर्व है की राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है। जिसने पूर्ववर्ती बीजेपी शासन काल में राजस्थान प्रदेश में व्याप्त, महंगाई ,भ्रष्टाचार को मिलाकर सुशासन स्थापित किया। करोना काल में राजस्थान वासियों को स्वास्थ्य चिकित्सा और सुरक्षा प्रदान करने में प्रदेश सरकार ने उत्कृष्ट कार्य किया। जिसकी तारीफ चारों ओर हो रही है। श्रीमती गांधी ने महंगाई को लेकर केंद्र सरकार पर कई तीखे हमले किए। उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों डीजल, पेट्रोल, गैस की बेतहाशा मूल्य वृद्धि से राजस्थान के साथ ही बिहार ,उत्तर प्रदेश ,मध्य प्रदेश सहित अन्य राज्यों में महंगाई चरम पर है। आज केन्द्र सरकार की नीतियां आम जनता के खिलाफ हैं, इन सरकरी नीतियों का फायदा केवल बड़े उद्योगपतियों व्यापारियों को ही हो रहा है।

रैली को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में में ऐसे किसानों से मिली हूं, जिनके ऊपर गाड़ी चढ़वाने वाले गृहमंत्री के बेटे को योगी सरकार और पुलिस बचा रही है। आरोपी के पिता गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा प्रधानमंत्री जी और गृहमंत्री जी के बगल में खड़े होकर फोटो खिंचवा रहे हैं। आज तक उन्हें मंत्री पद से नहीं हटाया गया। आज उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार में किसान खाद के लिए लाइनों में खड़ा खड़ा दम तोड़ दे रहा है और किसान कर्ज से डूबा हुआ है।

गांधी ने कहा कि सच्चाई यह है कि सरकार के पास किसानों के कर्ज माफ करने की कोई योजना नहीं है। लेकिन अपने करोड़पति उद्यमियों को सरकारी पैसे से मजबूत करने के लिए बहुत सारे तरीके,योजनाएं हैं । उनके बैंक के कर्ज माफ किए जा रहे हैं जबकि किसान भुखमरी की कगार पर दर-दर की ठोकरें खा रहा है।उन्होंने केंद्र सरकार की जन विरोधी नीतियों को आरोपित करते हुए कहा बीजेपी सरकार अपनी अकर्मण्यता को छुपाने के लिए लगातार झूठ पर झूठ परोस रही है। भाजपा की सरकारें जनता का हजारों करोड़ों रुपया विज्ञापनों पर खर्च करके जनता के बीच अपनी सरकारों द्वारा किये गये विकास का झूठ परोस रही हैं और अपना चेहरा चमका रही है।