• ब्यूरो

डॉ संदीप जायसवाल गोलीकांड में पुलिस के हाथ लगी सीसीटीवी फुटेज



लखनऊ। राजधानी के चिनहट में हुए डॉ संदीप जायसवाल गोलीकांड में पुलिस को सीसीटीवी फुटेज मिली है। मटियारी स्थित बालाजीपुरम कॉलोनी में स्थित घर से 17 मिनट का सीसीटीवी फुटेज मिला है। फुटेज में करीब 15 मिनट तक डॉ. संदीप व हमलावरों के बीच बातचीत की रिकॉर्डिंग हैं।


पुलिस के मुताबिक, डॉ. संदीप जायसवाल की एसयूवी को हमलावरों ने ओवरटेक कर रोका था। एसयूवी रुकने के बाद डॉ. संदीप और हमलावरों में काफी देर तक बातचीत होती रही। इस दौरान कहासुनी हुई। इसके बाद हमलावरों में शामिल एक युवक ने पिस्तौल से उन्हें गोली मार दी। गोली मारने के बाद उन पर ईंट व पत्थर से हमला किया गया। इसका खुलासा पुलिस के हाथ लगे 17 मिनट के सीसीटीवी फुटेज से हुआ है। फुटेज के आधार पर पुलिस हमलावरों की फार्रच्यूनर के बारे में जानकारी हासिल कर रही है। वहीं एक युवती से भी पूछताछ की गई है। जिसे पुलिस इस मामले में हमलावरों के करीब होने का दावा भी कर रही है।


जान बचाने के लिए वकील ने की थी फायरिंग


गोली की आवाज सुनकर पड़ोस में रहने वाले एक वकील के परिवारीजनों ने बदमाशों पर फायरिंग की थी। फायरिंग होता देख बदमाश वहां से भाग निकले थे। हालांकि जवाबी फायरिंग में किसी को गोली नहीं लगी। इसके बाद वकील ने ही पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। पुलिस के मुताबिक, डॉ. संदीप को बचाने के लिए वकील के घर से करीब चार से पांच राउंड फायरिंग की गई थी। इसके बाद वकील ने ही पुलिस कंट्रोल रूम और डॉ. संदीप के परिवारीजनों को सूचना दी।


डॉ के जबड़े में फंसी हुई है गोली


डॉ. संदीप जायसवाल का इंदिरानगर के सर्वोदयनगर में अस्पताल है। मंगलवार देर रात करीब 11.45 बजे वह अपने अस्पताल से वापस घर मटियारी स्थित बालाजीपुरम कॉलोनी जा रहे थे। घर से करीब 300 मीटर दूरी पर स्थित खाली प्लॉट के पास फार्रच्यूनर सवार बदमाशों ने डॉ. संदीप की एसयूवी को ओवरटेक कर रोक लिया। पहले उनके एसयूवी का शीशा तोड़ा। जब वह बाहर निकलकर भागने की कोशिश कर रहे थे। इसी बीच उन पर फायरिंग कर दी। बदमाशों की गोली डॉ. संदीप के जबड़े में फंसी है।


अपोलो अस्पताल में हैं भर्ती


डॉ संदीप को पहले लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां से ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया। देर रात तक इलाज में संतुष्टि न मिलने पर बुधवार तड़के पत्नी ने डॉ. संदीप को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया जहां उनकी कोविड की जांच हुई है। रिपोर्ट देर शाम तक नहीं आई थी जिसके कारण ऑपरेशन नहीं हो सका था। अभी भी गोली उनके जबड़े और गले के बीच में फंसी है।