• संवाददाता

नैनीताल की पुरानी पांडुलिपियों और साहित्य कला पर आधारित कार्यक्रम का हुआ आयोजन


उत्तराखंड, सोशल टाइम्स। हल्द्वानी में नैनीताल की पुरानी पांडुलिपियों, साहित्य कला और शिल्प, सांस्कृतिक गतिविधियों के प्रलेखन का संरक्षण, संगीत और नृत्य जैसे सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये गये। ये कार्यक्रम लोक संस्कृति एवं समाज कल्याण समिति पंतगाॅव भतरौजखान जनपद अल्मोडा के तत्वाधान में एवं संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से आयोजित हुए। उक्त कार्यक्रम का उद्घाटन क्षेत्रीय सभासद प्रमोद पंत एवं प्रधानाचार्य निर्मला पाण्डेय, दिवा भूषण पाण्डेय द्वारा किया गया।

इस अवसर पर लोक गायिका एवं संस्था की अध्यक्षा हरितिमा पंत द्वारा अतिथियों का स्वागत प्रतीक चिन्ह एवं अंग वस्त्र भेंट कर किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि एवं क्षेत्रीय पार्षद प्रमोद पंत ने कहा कि उत्तराखण्ड की लोक कलांए एवं लोक संस्कृति के प्रचार प्रसार संरक्षण सर्वधन एवं विकास हेतु समिति अच्छा कार्य कर रही है। सांस्कृतिक कार्यक्रमों का निर्देशन वरिष्ठ लोक गायिका हरितिमा पंत के निर्देशन में किया गया। उत्तराखण्ड की लोक कलाओं का निम्नवत मंचीय प्रदर्शन किया गया। सर्वप्रथम माॅ नन्दा सुनन्दा की स्तुति तदोपरांत उत्तराखण्ड के पारम्परिक लोकगीत एवं लोक नृत्य की सुन्दर प्रस्तुति वही उत्तराखण्ड का सुप्रसिद्ध झोडा, चाॅचरी, छपेली एवं जौनसारी लोकनृत्य की प्रस्तुति कलाकारों द्वारा दी गई जिसे दर्शकों ने काफी सराहा। साथ ही मुख्य अतिथि द्वारा कलाकारों को पुरस्कार वितरण प्रतीक चिन्ह भेंट किया गया। संस्था की अध्यक्ष हरितिमा पंत ने कार्यक्रम का समापन किया।