• संवाददाता

पेट्रोल पंप मैनेजर की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या



मोहनलालगंज। मीलपुर-चंद्रपुरा नहर मार्ग पर सोमवार दोपहर पेट्रोल पंप मैनेजर जसवंत सिंह के सिर में गोली लगने से मौत हो गई। पुलिस ने मौके से एक पिस्टल और कारतूस बरामद किया है। पुलिस घटना की विभिन्न बिंदुओं पर जांच कर रही है। प्राथमिक जांच में पुलिस आत्महत्या करने की बात कह रही है। वहीं स्थानीय लोगों ने लूट के बाद गोली मारकर हत्या करने की आशंका जताई है।


मोहनलालगंज मंगटइया गांव निवासी जसवंत सिंह इमिलिहा खेड़ा स्थित पेट्रोल पम्म पर मैनेजर थे सोमवार दोपहर मीलमपुर- चंद्रपुरा गांव की नहर किनारे खून से लथपथ शव पड़ा था। स्थानीय लोगों की सूचना पर मोहनलालगंज पुलिस, डीसीपी दक्षिणी रवि कुमार, एडीसीपी पूर्णेन्दु सिंह समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। एडीसीपी पूर्णेन्दु सिंह ने बताया कि पुलिस ने मैनेजर की बाइक के साथ ही एक झोला भी बरामद किया है। झोले में बैंक का एक बाउचर भी मिला है। पिस्टल और कारतूस जसवंत के शव के नीचे पड़ी थी।


पुलिस ने बताया कि जसवंत पर उधारी थी। वह पम्प के बकाया रुपयों के लिए तगादा भी कर रहे थे। सम्भावना जताई जा रही है कि जसवंत ने खुद गोली मारकर आत्महत्या की है। जसवंत बीमार भी थे। उनके हाथ में विगो भी लगी थी। परिवार वाले अभी कोई आरोप नहीं लगा रहे हैं। जिस रास्ते पर शव मिला है इधर से जसवंत का आना जाना भी नहीं था। वह मुख्य मार्ग से हमेशा आते जाते थे। पुलिस ने कहा कि परिवार वाले जो भी तहरीर देंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। घटना की कई बिंदुओं से जांच की जा रही है। अभी तक मिले साक्ष्यों से हत्या की पुष्टि नहीं हो सकी है।