• ब्यूरो

बरसाना: हर्षोल्लास से मनाई गयी राधाष्टमी


मथुरा, सोशल टाइम्स। मंगलवार को बरसाना में राधारानी का जन्मोत्सव हर्षोल्लास से मनाया गया। इस श्रृंखला में तड़के चार बजे राधारानी का अभिषेक हुआ तो मंदिर परिसर राधा रानी के जयकारों से गूंज उठा। सतरंगी लाइट से सजे मंदिर में राधा जन्मोत्सव में शामिल होने देश-विदेश से श्रद्धालु आए थे।


भाद्रपद महीने की शुक्ल पक्ष की अष्टमी को वृषभानु नंदिनी के जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में ब्रजाचार्य नारायण भट्ट द्वारा प्रकट विग्रह को चांदी की चौकी और रजत पात्र में विराजमान कर सेवायतों ने मूल शांति के लिए 27 कुओं का जल, 27 वृक्षों के पल्लव, 27 तरह की औषधियों, 27 मेवा व 27 ब्राह्मणों की उपस्थिति में हवन किया।


इसके बाद दूध, दही, शहद, बूरा, इत्र, घी, गुलाबजल, गोघृत, पंच मेवा, पंच नवरत्न, केसर आदि से राधारानी के श्रीविग्रह का करीब एक घंटे तक अभिषेक किया गया। राधा जन्मोत्सव की धूम बरसाना के कोने-कोने में देखी गई।


देश के कोने-कोने से आए श्रद्धालु ‘बरसाने बजी है बधाई, रानी कीरत ने लाली जाई’ पदों पर थिरक रहे थे।


बरसाना में राधाष्टमी से प्रारंभ हुए उत्सवों का समापन बूढ़ी लीला समापन के बाद होगा। नवमी को मोरकुटी पर लड्डू लीला, दसवीं को विलासगढ़ की लीला, एकादशी को सांकरी खोर की चुटिया बंधन लीला, गाजीपुर में डोंगा लीला, द्वादशी को ऊंचागांव का ब्याहुला और त्रयोदशी को सांकरी खोर मटकी लीला होगी।