• संवाददाता

सपा प्रभारी ने दर्शन महाविद्यालय में की गौमाता की पूजा अर्चना

पौराणिक ग्रंथों में कामधेनु का उल्लेख मिलता है: चौधरी

ऋषिकेश, सोशल टाइम्स। गोपाष्टमी पर्व के अवसर पर मुनि की रेती स्थित दर्शन महाविद्यालय, शिवानंद नगर में आयोजित कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी उत्तराखंड प्रभारी एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र चौधरी बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। कार्यक्रम के शुरुआत में उन्होंने विधिविधान पूर्वक गौमाता की पूजा अर्चना किया। दर्शन महाविद्यालय की ओर से मुख्य अतिथि राजेन्द्र चौधरी को स्मृति चिन्ह, अंग वस्त्र और पुस्तक भेंट की गई।

इस अवसर पर चौधरी ने कहा कि महाविद्यालय के कार्यक्रमों में शामिल होना सौभाग्य की बात है। यहां के बच्चों का मर्यादित और अनुशासित जीवन प्रेरणादायक है। उनकी दिनचर्या भारतीय संस्कृति के लिए समर्पित है। आज समाज और व्यवस्था के सामने जो संकट है उसे दूर करने में भारतीय परंपरा का मानवीय दृष्टिकोण बेहद आवश्यक है। आज का दिन इस मायने में बेहद अहम है। गोपाष्टमी का पर्व गौधन से जुड़ा है। पौराणिक ग्रंथों में कामधेनु का उल्लेख मिलता है। जिनकी उत्पत्ति देवता और असुरों द्वारा समुद्र मंथन के दौरान हुई थी। ऐसी धारणा है कि गोपाष्टमी पर गाय की पूजा करने वाले लोगों को सुख समृद्धि और सौभाग्य की प्राप्ति होती है। इस संस्कार के वाहक गौपालक उस संस्कृति को जीवित रख रहे है। चौधरी ने कहा कि भारतीय समाज में छात्रों का एक ऐसा वर्ग है जो अपना जीवन भारतीय समाज को दिशा देने में लगा रहा है। इसलिए महाविद्यालय के छात्रों के प्रति हमारा श्रद्धा भाव है। पूरी तन्मयता और निष्ठा के साथ छात्र अध्ययन करते हुए पवित्र कार्य कर रहे हैं। यह प्रयास भारतीय समाज को कुसंस्कारों और संस्कारहीनता से दूर करने में सहायक हो रहा है। इससे समाज स्वस्थ रहेगा। भारतीय समाज की हजारों वर्षों की जीवन यात्रा है। भविष्य में उसके मूल्यों से परिपूर्ण नया मर्यादित समाज बनाने की जिम्मेदारी इन्ही छात्रों के कंधों पर है। इस महत्वपूर्ण कार्य को सतत क्रियाशील बनाने वाले महाविद्यालय परिवार को बधाई। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रबंधक संजय शास्त्री, अध्यक्ष श्री वंशीधर पोखरियाल, मनोज द्विवेदी पूर्व चेयरमैन मुनि की रेती, योगी बुद्धिप्रकाश, रमेश गौड़, शीशराम कंशवाल, एस के राय, अतुल यादव, राजीव गुप्ता सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।