• संवाददाता

राम निवास यादव ने की कृषि क़ानून के विरोधियों की आलोचना


लखनऊ, सोशल टाइम्स। राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राम निवास यादव ने कृषि क़ानून का विरोध कर रहे किसान नेताओं की कड़ी आलोचना करते हुये कहा कि आज पूरे देश का किसान नये कृषि बिलों का स्वागत करते हुए बिल के साथ है तो वहीं कुछ तथाकथित किसान नेता कुछ राजनैतिक दलों से साँठ-गाँठ कर इन बिलों का विरोध कर रहे है। जबकि इनका उद्देश्य किसान हित न होकर अपनी-अपनी राजनैतिक जमीन बनाना है जिसको पूरे देश का किसान समझ गया है यही कारण है कि देश का असली किसान इन कथित किसान नेताओं का साथ नही दे रहा है। यह बौखलाकर बिचौलियों के साथ साँठ-गाँठ करके आन्दोलन कर रहे है। जबकि हम सब के नेता स्व0 महेन्द्र सिंह टिकैत ने सबसे पहले इन्ही मांगों को लेकर आन्दोलन किया था कि किसानों को बिचौलियों से मुक्त किया जाये तथा देश के किसानों को अपनी फसल अपने दामों में कही भी बेचने की अनुमति दी जाये इसके साथ ही खेती में भी सहूलियतें दी जाये। आज जब मोदी सरकार ने किसानों के हितों को देखते हुये नये कृषि बिल लागू किये है तो कुछ कथित किसान नेता इन बिलों का विरोध करने लगे है तथा बिचौलियों के समर्थन के कारण इनका हौसला इतना बढ़ गया है कि बात-बात पर उत्तर प्रदेश पुलिस के जवानों का बक्कल (बिल्ला) नोचने की बात करते है जिसका राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन कड़ा विरोध करती है जिससे पुलिस बल का भी मनोबल गिरता है तथा