• ब्यूरो

नहीं रहें किसानों के मसीहा चौधरी अजीत सिंह, पूरे देश ने दी श्रद्धांजलि


स्वर्गीय चौधरी अजीत सिंह

गुरुग्राम । राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष अजित सिंह का आज 6 मई को निधन हो गया। वह कुछ दिन पहले कोरोना से संक्रमित हो गए थे और गुरुग्राम के आर्टिमिस अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। स्वर्गीय अजीत सिंह पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के बेटे भी हैं।


किसानो के मसीहा थे अजीत -

चौधरी अजीत सिंह को किसानो का मसीहा कहा जाता था। रालोद के मुखिया और पूर्व केंद्रीय मंत्री 82 वर्ष के थे। जानकारी के अनुसार कोरोना के कारण उनके फेफड़ों में संक्रमण बढ़ गया था जिससे उनकी हालत बेहद नाजुक हो गई थी और इसी के चलते उनका निधन हो गया।


देश के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के बेटे चौधरी अजित सिंह उत्तर प्रदेश के बागपत से सात बार सांसद रहे और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री भी रह चुके हैं। उनके निधन के बाद पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में शोक की लहर है। अजित सिंह और उनके परिवार की जाट समाज में काफी पैठ रही है। पिछले दो लोकसभा चुनाव और 2 विधानसभा चुनाव के दौरान रालोद का ग्राफ तेजी से गिरा। यही वजह है कि वे अपने गढ़ बागपत से भी लोकसभा चुनाव हार गए। हालांकि किसान आंदोलन के बाद से अजित सिंह के बेटे जयंत चौधरी एक बार फिर पश्चिमी यूपी में अपनी धाक जमाने की लगातार कोशिश कर रहे हैं।


अजीत सिंह के बेटे जयंत चौधरी ने ट्वीट अपने ट्वीट में लिखा कि "नहीं रहे चौधरी साहब।"



पूरे देश ने दी श्रद्धांजलि


देश के प्रधानमंत्री मोदी, प्रदेश की राजयपाल, मुख्यमंत्री योगी व् पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत देश के सारे बड़े नेताओं ने अजीत सिहं की मृत्यु पर दुःख व्यक्त किया व श्रद्धांजलि अर्पित की।