• ब्यूरो

समाजवादी पार्टी ने मनाई अहिल्याबाई होल्कर जयन्ती


महारानी अहिल्याबाई होल्कर

लखनऊ। समाजवादी पार्टी मुख्यालय, लखनऊ सहित प्रदेश के सभी जनपदों में पार्टी कार्यालयो में महारानी अहिल्याबाई होल्कर की 296वी. जयन्ती मनाई गई। इस अवसर पर उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर चर्चा की गई। उनके रास्ते पर चलकर प्रदेश में जनोन्मुख सर्व हितकारी समाजवादी सरकार बनाने का भी संकल्प लिया गया।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि लोकमाता अहिल्याबाई होल्कर हमारे लिए प्रेरणा पुंज है। ऐसे समय में जब समाज रूढ़ियों और अंधविश्वासों में जकड़ा हुआ था महारानी अहिल्याबाई ने कई क्रांतिकारी कदम उठाए। उन्होने सतीप्रथा के खिलाफ आवाज उठाई। धार्मिक पाखंड पर उनकी यह पहली चोट थी। धर्म के नाम पर स्त्री शिक्षा और राज करने के अधिकार पर लोकमाता ने सामाजिक बंदिशे तोड़ीं। इंदौर की शासक बनकर उन्होने प्रजाहित में कई निर्णय लिए जिससे वे बहुत लोकप्रिय हुई।

सपा प्रमुख ने कहा कि महारानी अहिल्याबाई होल्कर एक कुशल राजनीतिज्ञ भी थी। उन्होने अंग्रेजो की राज हड़पो नीति को पहले ही भांपकर पेशवा को आगाह किया था। महारानी के तीन दशक के शासन में ही इंदौर एक फलता-फूलता शहर बन गया। मालवा में किले और सड़के भी तभी बनी। हर दिन वे जनता से मुखातिब होती थी। विद्वानों को उन्होने भरपूर प्रश्रय दिया। सात दशक के लंबे जीवन में उन्होंने संघर्ष के साथ सेवा का अनुकरणीय उदाहरण पेश किया।