• ब्यूरो

सपा अध्यक्ष ने कहा: 2022 लोकतंत्र को बचाने की अग्निपरीक्षा है

बंगाल के फ्लाईओवर के साथ मुख्यमंत्री जी का चित्र आश्चर्यजनक...

लखनऊ, सोशल टाइम्स। रविवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि 2022 में लोकतंत्र को बचाने के लिए समाजवादी कार्यकर्ताओं की अग्निपरीक्षा का समय है। भाजपा सत्ता का दुरूपयोग कर अपना राजनीतिक एजेण्डा पूरा करना चाहती है। इस बार बूथ पर भाजपा की बुरी नजर लगी है। इसलिए युवा शक्ति एवं जाग्रत जनता उत्तर प्रदेश में अब हर बूथ पर जन जागरण करते हुए समाजवादी पार्टी के सिद्धांतों और काम के आधार पर ‘जन-मन विजय अभियान‘ की सफलता सुनिश्चित करके लोकतांत्रिक क्रांति के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा ने फिर से अपना असली रूप दिखाना शुरू कर दिया है। कल्याणकारी राज्य की अवधारणा में जनता के साथ न्याय होता है किन्तु भाजपा राज में अराजकता का साम्राज्य व्याप्त है। लोकतंत्र के इस उत्सव की पवित्रता को बचाने के कार्य में जहां सभी कार्यकर्ताओं को पूरी निष्ठा से लगना है वहीं भाजपा के अलोकतांत्रिक इरादों से पूरी तरह सतर्क भी रहना होगा। समाजवादी पार्टी इस सम्बंध में पुख्ता रणनीति बना रही है ताकि भाजपा जनता को धोखा न दे सके।

यादव ने कहा कि भाजपा के झूठे प्रचार में विज्ञापनों की स्थिति इतनी डरावनी है कि समाजवादी सरकार के विकास के कामों को तो भाजपा अपने कामों में गिनाती रही है पर आश्चर्य तो यह है कि पश्चिमी बंगाल के फ्लाईओवर को भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी के चित्र के साथ प्रदर्शित किया जा रहा है। जहां भी अच्छा काम हुआ तो भाजपा को उसे अपना बताने में कोई संकोच नहीं है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वे बिना समय गवाएं अपने अपने क्षेत्रों में पूरी मुस्तैदी से जुट जाएं। इस कार्य में कोई कोताही न हो। बूथ पर तनिक भी चूक नहीं होनी चाहिए। कार्यकर्ता यह न भूलें कि दोबारा उन्हें ऐसा अवसर मिलने वाला नहीं है। उन्हें मतदाता सूची में नाम बढ़ाने पर ध्यान देना है। सबका सहयोग लें और सबका सम्मान करें। सन् 2022 में हर हाल में सपा को विजयी बनाना है।