top of page
  • एजेंसी

राज्य स्तरीय संक्षिप्त पुनरीक्षण अभियान कार्यक्रम का हुआ शुभारम्भ


लखनऊ (न्यूज़ ऑफ इंडिया) राज्य स्तरीय संक्षिप्त पुनरीक्षण अभियान का कार्यक्रम लखनऊ विश्वविद्यालय के राधाकमल मुखर्जी सभागार में आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि/मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अजय कुमार शुक्ला द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया।


इस अवसर पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि मतदाता सूची में नाम शामिल कराने के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण/मतदाता (वोटर) पंजीकरण कार्यक्रम 09 नवम्बर, 2022 से 08 दिसम्बर, 2022 तक चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि पुनरीक्षण के दौरान 01 जनवरी, 2023 को 18 वर्ष पूर्ण करने वाले युवा मतदाता बनने के लिए ऑनलाइन व ऑफलाइन फार्म भर सकते हैं, इसके अलावा 01 अप्रैल, 01 जुलाई व 01 अक्टूबर, 2023 को 18 वर्ष पूर्ण करने वाले युवा भी मतदाता बनने हेतु आवेदन कर सकते हैं किन्तु इनका नाम अभी मतदाता सूची में नाम दर्ज नहीं होगा। इसे होल्ड कर दिया जाएगा। इसके बाद उक्त अवधि में 18 वर्ष पूर्ण करते ही इन युवाओं का नाम स्वतः वोटर लिस्ट में जुड़ जाएगा। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा यह सुविधा पहली बार प्रदान की गयी है। इसका मुख्य उद्देश्य युवाओं को अधिक से अधिक वोटर बनाना है।

शुक्ला ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर उत्तर प्रदेश के समस्त विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अर्हता तिथि 01 जनवरी, 2023 के आधार पर कराया जा रहा है। आयोग के निर्देशों के क्रम में 21-मैनपुरी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से संबंधित समस्त विधान सभाएं, जिसमें 107-मैनपुरी, 108-भोगांव, 109-किसनी (अ0जा0), 110-करहल, 199-जसवन्त नगर (जनपद इटावा) तथा 37-रामपुर एवं 15-खतौली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों को छोडकर शेष समस्त विधान सभा क्षेत्रों में विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कराया जायेगा।


मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि आयोग के निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 09 नवम्बर, 2022 को विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों का आलेख्य प्रकाशन किया गया। 09 नवम्बर से 08 दिसम्बर, 2022 तक दावे और आपत्तियां प्राप्त की जायेंगी। मतदान केन्द्रों पर मतदाता पंजीकरण हेतु 12 नवम्बर (शनिवार), 20 नवम्बर (रविवार), 26 नवम्बर (शनिवार) एवं 04 दिसम्बर, 2022 (रविवार) को विशेष अभियान दिवस की तिथियां निर्धारित हैं। 26 दिसम्बर, 2022 को निर्वाचक नामावलियों के संबंध में दावे और अपत्तियों का निस्तारण किया जायेगा तथा 05 जनवरी, 2023 को निर्वाचक नामावलियों का अंतिम प्रकाशन किया जायेगा।


कार्यक्रम में जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी, लखनऊ सूर्यपाल गंगवार ने कहा कि 01 जनवरी 2023 को अर्हता आयु पूर्ण करने वाले नए मतदाताओं के मतदाता सूची में नाम शामिल करने के लिए पूरे प्रदेश में विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अभियान आज से चलाया जा रहा है। इसमें जिला प्रशासन तथा प्रत्येक नागरिक की जिम्मेदारी है कि जिन लोगों का मतदाता पहचान पत्र नहीं बना है वे उन लोगों का मतदाता पहचान पत्र बनवाने में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक को लोकतंत्र में वोट के माध्यम से अपना योगदान देने हेतु प्रोत्साहित होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह भी सुनिश्चित किया जाए कि वोटरलिस्ट में अर्ह मतदाताओं का ही नाम दर्ज हो।


कार्यक्रम में संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनीष शुक्ल, अपर जिलाधिकारी विपिन कुमार मिश्र, कुल सचिव प्रो0 संजय मेधावी, कार्यक्रम समन्वयक राष्ट्रीय सेवा योजना प्रो0 रूपेश कुमार, सहायक निर्वाचन अधिकारी अभय कुमार सहित एनएसएस के स्वयं सेवक एवं छात्र-छात्रायें आदि उपस्थित रहेे।

bottom of page