• ब्यूरो

भाजपा की कुनीतियों से देश की अर्थव्यवस्था चरमराई: अखिलेश ने

भाजपा नेतृत्व आम जनता में जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा...

लखनऊ, सोशल टाइम्स। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा की कुनीतियों के चलते देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। उन्होंने भाजपा सरकार की नीतियों पर आरोप लगते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी देश की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन बनाने का सपना दिखाते रहे हैं। पर आज तक इस दिशा में कोई ठोस कदम उठाने का उन्होंने संकेत नहीं दिया है। यह भी नहीं बताते कि अब तक देश कितने ट्रिलियन तक पहुंचा हैं। उनके कथित ‘उपयोगी‘ मुख्यमंत्री जी प्रदेश के लिए एक ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था का ढिंढोरा पहले पीट रहे थे अब इशारे में भी उसका नाम नहीं ले रहे हैं। आंकड़े बताते हैं कि उत्तर प्रदेश आगे बढ़ने के बजाय पीछे जा रहा है।

रविवार को जारी बयान ने सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार के पास अब एक ही काम रह गया है विपक्ष को बदनाम करना और उसके नेताओं पर व्यक्तिगत अमर्यादित टिप्पणियां करना। भाजपा के बड़े नेतओं ने अपना संयम खो दिया है और वे छिछले बयानों से अपनी संकीर्ण मानसिकता दिखा रहे हैं। अपनी सरकारी संस्थाओं के जरिए भाजपा सरकार विपक्षी नेताओं को डराने की कोशिश करना चाहती है। समाज का हर तबका भाजपा के धोखे और झूठ से त्रस्त हैं। जनता उसकी सच्चाई जानने लगी है इसलिए वह जनता की समस्याओं को हल करने और चर्चा करने तक से भाग रही है।

उन्होंने कहा कि बिना सरकारी तंत्र के भाजपा नेतृत्व अब आम जनता में जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा हैं। लोग महंगाई, बेरोजगारी, कानून व्यवस्था, गन्ना किसानों के बकाया भुगतान और किसानों की आय दोगुनी करने के वादे के साथ किसानों को फसल का लाभप्रद मूल्य दिलाने को लेकर सवाल पूछ रहे हैं। लोगों को भरोसा दिलाया गया था कि भाजपा सरकार बनने पर महंगाई रूकेगी, नौजवानों को यूपी में 70 लाख नौकरियां मिलेंगी। भाजपा ने अपने कार्यकाल का पूरा समय केवल जबानी जमाखर्च और जुमलोें से लोगों की बहकाने में ही बिताया है। जो भी काम हुए वे समाजवादी सरकार में हुए। जो काम जहां रूक गया था वहां आज भी अधूरा पड़ा है। जनता को विश्वास है कि समाजवादी सरकार आने पर ही किसानों का भला होगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा राज में जनता को सिर्फ जिल्लत और परेशानियां ही मिली है। लोग भ्रष्टाचार से त्रस्त हैं। महिलाएं अपमानित और असुरक्षित महसूस करती हैं। अपराधी बेखौफ हैं और प्रशासन असहाय बना दिया गया है। भाजपा न तो लोकतंत्र और नहीं संवैधानिक संस्थाओं का सम्मान करती है। इसलिए अब प्रदेश की जनता भाजपा को और बर्दाश्त करने को तैयार नहीं है। लोकतंत्र के विरूद्ध भाजपा का कोई भी षड्यंत्र कामयाब नहीं हो सकेगा। भाजपा लाख कोशिश कर ले, लेकिन विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा की ऐतिहासिक पराजय सुनिश्चित है।