• एजेंसी

प्रदेश के 100 आकांक्षात्मक विकास खण्डों मे बढ़ा जल संरक्षण व संचयन का लक्ष्य को बढ़ाया



लखनऊ (न्यूज़ ऑफ इंडिया) उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के निर्देश पर 100 आकांक्षात्मक विकास खंडो में मनरेगा के अंतर्गत परम्परागत जलस्रोतों के पुनर्निर्माण एवं सुदृढ़ीकरण तथा जल संचयन एवं जल संरक्षण के कार्यों के वित्तीय वर्ष 2022-23 के पूर्व निर्धारित लक्ष्यों में वृद्धि करते हुए लक्ष्य को 3184 के स्थान पर 6458 कर दिया गया है। इस प्रकार लक्ष्य वृद्धि से जहां एक ओर ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा योजनान्तर्गत कार्य करने के इच्छुक श्रमिक परिवारों को अधिक कार्य के अवसर प्राप्त होंगे, वहीं दूसरी ओर भूगर्भ जल के गिरते हुए स्तर को रोकने में कामयाबी मिलेगी।