• ब्यूरो

आज कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी महिलाओं के साथ करेंगी संवाद

रामघाट पर बड़ी तादाद में महिलाएँ होंगी शामिल

चित्रकूट, सोशल टाइम्स। आज कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी चित्रकूट में महिलाओं के साथ 'लड़की हूँ- लड़ सकती हूँ' संवाद करेंगी। यह कार्यक्रम दोपहर चित्रकूट के रामघाट पर होगा जिसमें बड़ी तादाद में महिलाएँ शामिल होंगी। यह जानकारी देते हुए पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डॉ.उमाशंकर पांडेय ने बताया कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी यूपी को बदहाली से निकालने की नयी उम्मीद बनकर आयी हैं। उन्हें लेकर महिलाओं में ख़ासा उत्साह है। उन्होंने 'लड़की हूँ-लड़ सकती हूँ' का जो नारा दिया है, वह महिला सशक्तीकरण का नया प्रतीक बन गया है। इसी अभियान के तहत चित्रकूट में 'लड़की हूँ-लड़ सकती हूँ' संवाद आयोजित किया जा रहा। इस कार्यक्रम को लेकर क्षेत्र में काफ़ी उत्साह है। हज़ारों की तादाद में महिलाएँ इस संवाद में हिस्सा लेंगी।

डा.पांडेय ने बताया कि यूपी की योगी सरकार ने जिस तरह से उत्तर प्रदेश को अपराध प्रदेश में बदल दिया है उसका सबसे ज़्यादा खामियाज़ा महिलाओं को भुगतना पड़ रहा है। प्रियंका गाँधी ने अपने संघर्ष में उन्हें शामिल होने का आह्वान किया है जिसका व्यापक असर नज़र आ रहा है। कांग्रेस ने महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए पूरी योजना बनायी है। कांग्रेस ने आगामी चुनाव में 40 फ़ीसदी टिकट महिलाओं को देने का ऐलान किया है। इसके अलावा कांग्रेस सरकार बनने पर लड़कियों को स्कूटी और स्मार्टफोन दिया जायेगा। सरकारी बसों में महिलाओं के लिए यात्रा मुफ्त होगी। नये सरकारी पदों में आरक्षण प्रावधानों के तहत 40 फ़ीसदी नियुक्ति महिलाओं को दी जायेगी। आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दस हज़ार रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जायेगा। साथ ही वृद्धा और विधवा पेंशन एक हज़ार रुपये प्रतिमाह की जाएगी। इसके अलावा वीरांगनाओं के नाम पर प्रदेश के 75 दक्षता विद्यालय खोले जायेंगे। इसके अलावा हर साल तीन गैस सिलेंडर मुफ्त दिये जायेंगे। पांडेय ने कहा कि महिलाओं को लेकर किए गये ये तमाम वादे केवल वादे नहीं हैं, बल्कि प्रियंका गाँधी की प्रतिज्ञाएँ हैं जिन्हें पूरा करने के लिए लाखों कांग्रेस जन रात-दिन एक कर रहे हैं। यूपी की महिलाएँ प्रियंका गाँधी के नेतृत्व में अगले विधानसभा चुनाव में बीजेपी के कुशासन का अंत करेंगी।