• ब्यूरो

यूपी कांग्रेस ने किया 'भाजपा गद्दी छोड़ो' मार्च का आयोजन

अगस्त क्रांति दुनिया की एक बेमिसाल क्रांति थी: अजय लल्लू

लखनऊ, सोशल टाइम्स। सोमवार को उत्तर प्रदेश कांग्रेस पार्टी द्वारा अगस्त क्रांति दिवस के अवसर पर पूरे प्रदेश में ‘‘भाजपा गद्दी छोड़ो‘‘ मार्च का आयोजन किया गया। जिसमें प्रदेश भर की समस्त विधान सभाओं में कांग्रेसजनों ने लगभग चार किलोमीटर पैदल मार्च किया। कांग्रेसियों द्वारा निकाले गये मार्च के दौरान अधिकांश जनपदों में पुलिस ने कांग्रेसियों को गिरफ्तार कर मार्च कार्यक्रम को विफल करने का प्रयास किया। वहीं तमाम बड़े नेताओं को योगी सरकार की पुलिस ने हाउस अरेस्ट भी कर लिया। लेकिन कांग्रेसी हौसले के आगे पुलिसिया उत्पीड़न और ज्यादती टीक न सकी। महात्मा गांधी जी के आवाह्न पर अंग्रेजों के काले शासन से आजादी के लिए जिस तरीके से ‘‘अंग्रेजों भारत छोड़ो‘‘ आंदोलन चलाया था उसी तर्ज पर भाजपा सरकार के कुशासन और जन विरोधी नीतियों के खिलाफ कांग्रेस दो दिवसीय विरोध प्रदर्शन मार्च को लेकर आज 10 अगस्त को भी विभिन्न जनपदों में मार्च प्रदर्शन करेगी। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि अगस्त क्रांति दुनिया की अपने ढंग की बेमिसाल क्रांति थी जो भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन का निर्णायक संघर्ष और प्रवेश द्वार बनी। उन्होंने कहा कि भाजपा की गुंगी बहरी सरकार से ना हम डरे है, ना डरेंगें। सरकार कांग्रेसियों का चाहे जितना उत्पीड़न कर ले जनहितों के मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी आर-पार की लड़ाई सदैव लड़ेगी।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि बलिया से गाजियाबाद तक योगी पुलिस ने कांग्रेसियों को दबाने और डराने के लिए पूरा प्रयास किया। सरकार में नौजवानों के उपर गिरी लाठियों का अन्नदाताओं के आसुओं का, दलितों पर हुए अत्याचारों का, छोटे मझोले व्यापारियों के बदहाली का हिसाब जनता जरूर करेगी। अगस्त क्रांति दिवस से प्रेरणा लेकर हम कांग्रेसजन जनता के सहयोग से भाजपा सरकार को ‘‘गद्दी छोड़ने‘‘ पर मजबूर कर देगें। पूरे प्रदेश में किसानों के बदतर हालात किसी से छिपे नहीं है, महिलाओं का चीरहरण, बच्चियों के साथ बालात्कार आम हो गयी है। डीजल, पेट्रोल के बढ़ते दाम आसमान छू रहे है, ध्वस्त कानून व्यवस्था, लचर स्वास्थ्य व्यवस्था, भाजपा शासनकाल का विकास बन गया है। प्रदेश कांग्रेस द्वारा आयोजित ‘‘भाजपा गद्दी छोड़ो‘‘ कार्यक्रम के परिपेक्ष्य में बाराबंकी में प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू तथा मीडिया विभाग के चेयरमैन व पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दकी लखनऊ की मलिहाबाद एवं सरोजनी नगर विधान सभा में मार्च का नेतृत्व किया।

वहीं पूर्व सांसद डा. निर्मल खत्री अयोध्या की सोहावल विधानसभा, पूर्व संसाद रासिद अलवी बिजनौर की चांदपुर विधान सभा, पूर्व सांसद जफर अली नकवी लखीमपुर की गोला विधानसभा, विधान मण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना जी प्रतापगढ़ की रामपुर खास विधानसभा, पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी प्रतापगढ़ के रामपुर खास विधान सभा, आचार्य प्रमोद कृष्णम् गाजियाबाद के सदर विधानसभा, पूर्व विधायक विनोद चतुर्वेदी जालौन की माधवगढ़ विधानसभा, पूर्व सांसद राजाराम पाल गाजियाबाद के मुरादनगर विधानसभा, पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य झांसी की मउरानी विधानसभा, कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव जितेन्द्र बघेल गाजियाबाद के मुरादनगर विधान सभा, पूर्व सांसद राकेश सचान कानपुर देहात, प्रदेश उपाध्यक्ष विश्वजीत सिंह वाराणसी के रोहनिया विधानसभा, पूर्व विधायक अजय राय वाराणसी की कैंट विधानसभा, में पैदल मार्च कार्यक्रम की अगुवाई की।