• ब्यूरो

निवेश सुरक्षा की सबसे बड़ी गारंटी है उत्तर प्रदेश : सीएम योगी


गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सुदृढ़ कानून व्यवस्था, निवेश के लिए अनिवार्य शर्त है। आज उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरे देश में नजीर के रूप में ली जा रही है। गत पांच वर्षों में इस दिशा में जो कदम उठाए गए, उसके अपेक्षित परिणाम सामने आए हैं। सुरक्षा का माहौल बना तो यूपी निवेशकों का पसंदीदा स्थान बन गया। शानदार कानून व्यवस्था के चलते उत्तर प्रदेश निवेश सुरक्षा की सबसे बड़ी गारंटी है। यूपी में निवेशक भी सुरक्षित हैं और उनका पूंजी निवेश भी। सुरक्षा से निवेश होगा, निवेश से विकास होगा। लोगों को काम मिलेगा और सबके जीवन में खुशहाली आएगी सीएम योगी रविवार को गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) में 143.69 करोड़ रुपये के विकास कार्यों के लोकार्पण-शिलान्यास व एक हजार करोड़ रुपये से अधिक का निवेश प्रस्ताव देने वाले निवेशकों तथा रेडीमेड गारमेंट क्लटर के उद्यमियों के भूमि आवंटन पत्र वितरण समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2024 तक भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा है। आबादी के लिहाज से देश का सबसे बड़ा राज्य होने के कारण इसमें यूपी से स्वाभाविक तौर पर अपेक्षाएं अधिक होंगी। प्रधानमंत्री की मंशा के अनुरूप हम अपनी अर्थव्यवस्था को नई ऊंचाइयों तक ले जाने में तभी सफल होंगे जब निवेश की गति निरंतर तेज होती रहेगी। सीएम योगी ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था में अग्रणी भूमिका निभाने के लिए अगले कुछ वर्षों में हमें उत्तर प्रदेश को एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का प्रदेश बनाना है। प्रदेश की 25 करोड़ जनता मिलकर पीएम की मंशा के अनुरूप आगे बढ़ रही है। ऐसे में एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य हासिल करने में देर नहीं लगेगी। सीएम ने कहा कि उनकी सरकार के पहले कार्यकाल में 3 लाख करोड़ रुपये से अधिक के निवेश प्रस्ताव धरातल पर उतारे गए। इस सिलसिले को बढ़ाते हुए 3 जून को प्रदेश के तीसरे ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 75 हजार करोड़ रुपये से अधिक की निवेश परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि बड़ी औद्योगिक परियोजनाओं के साथ ही सरकार ने परम्परागत उद्यम को ओडीओपी में शामिल कर तथा परम्परागत शिल्पकारों के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना चलाकर लाखों लोगों के जीवन में खुशहाली लाने का काम किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज का उत्तर प्रदेश अनावश्यक मुद्दों से दूर रहकर विकास की नई आभा के साथ बुलंदियों को छूने को उतावला है। आप सबने देखा कि कैसे श्रीराम नवमी, हनुमत जयंती और ईद का पर्व यहां पूरी शांति के साथ सम्पन्न हुआ। 'सड़कें चलने के लिए होती हैं, आस्था के लिए धर्म स्थल हैं।' इस संदेश से सड़कों पर धार्मिक गतिविधियां नहीं हुईं। माइक लगाकर उपासना व्यक्तिगत आस्था का विषय हो सकता है, इसे जबरन थोपा नहीं जा सकता। बहुत शांतिपूर्ण तरीके से प्रदेश में एक लाख से अधिक माइक या तो उतारे गए या उनकी आवाज कम की गई।