• संवाददाता

उत्तराखण्ड की लोक संस्कृति परम्पराओ पर आधारित उत्सव एवं कार्यशाला का हुआ आयोजन

मकसद संस्था, अल्मोड़ा के तत्वाधान में हुआ आयोजन

उत्तराखण्ड, सोशल टाइम्स। रविवार को मकसद संस्था, अल्मोड़ा के तत्वाधान में एवं संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से उत्तराखण्ड की लोक संस्कृति परम्पराओ पर आधारित उत्तराखण्ड उत्सव एवं कार्यशाला का आयोजन हुआ। कार्यक्रम रामलीला समिति शेर का डंडा , नैनीताल उत्तराखण्ड में आयोजित हुआ। जिसका उद्घाटन मुख्य अतिथि अजय कुमार निदेशक, अभिलेखागार, संस्कृति विभाग उत्तराखण्ड एवं विशिष्ट अतिथि खुशाल सिंह, अध्यक्ष विनोद सवाल कोषाध्यक्ष पूरन चंद पांडेय सचिव रामलीला कमेटी के कर कमलों द्वारा किया गया। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ उदघोषक हेमन्त बिष्ट द्वारा किया गया। संस्था के अध्यक्ष बी0 एस0 बिष्ट एवं सचिव हेमा बिष्ट ने अतिथियों का स्वागत पुष्पगुच्छ एवं प्रतीक चिन्ह व अंगवस्त्र भेंटकर किया गया। इस अवसर हेमंत बिष्ट द्वारा उत्तराखण्ड की लोक संस्कृति के संरक्षण सर्वधन पर चर्चा की एवं स्वच्छ भारत अभियान-एक कदम स्वच्छता की ओर विषय पर परिचर्चा एवं प्रचार प्रसार भी किया गया। लोगों को कोविड-19 से बचाव की जानकारी भी दी गई। इस अवसर पर मुख्य अतिथि एवं अतिथियों ने संस्था द्वारा किये जो रहे कार्यक्रमों की भूरि भूरि प्रसंसा की और कहा कि उत्तराखण्ड की लोक संस्कृति का संरक्षण सर्वधन एवं विकास में हमेशा मकसद संस्था योगदान देती आ रही है। संस्था के कार्यक्रम निर्देशक हेमा बिष्ट ने बताया कि 05 जुलाई 2021 से 04 अगस्त 2021 तक पारम्परिक सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। तदोपरांत आज उत्तराखण्ड उत्सव में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। मकसद संस्था द्वारा संस्कृति के संरक्षण एवं सर्वधन हेतु पारम्परिक एवं पौराणिक लोक कलाओं एवं विधाओं पर निम्न कार्यक्रमों की सुन्दर मंचीय प्रस्तुति हेमा बिष्ट एवं किशन लाल के निर्देशन में दी गई। साथ ही हेमा बिष्ट ने मुख्य अतिथि एवं सम्मानित दर्शकों का आभार प्रकट करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया।