• ब्यूरो

योगी का सपा- रालोद पर हमला: माल वही सड़ा-गला पुराना, बस लिफ़ाफ़ा नया

सपा के लोगों की सारी गर्मी 10 मार्च के बाद शांत करा देंगे: योगी

लखनऊ, सोशल टाइम्स। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा-रालोद की जोड़ी पर हमला करते हुए कहा कि ये जो दो लड़के हैं इससे पहले भी ऐसे ही जोड़ी आई थी। माल वही सड़ा-गला, पुराना है बस लिफ़ाफ़ा नया है। ये दोनों लड़के वही हैं एक सत्ता में बैठकर हत्या करा रहा था, दूसरा दिल्ली में बैठकर दंगाइयों का बचाव कर रहा था। जिसने सत्ता में रहकर प्रदेश को असुरक्षा दी, दंगे किए उनसे हमने कह दिया है कि कयामत के दिन तक भी तुम्हारा सपना नहीं साकार होने वाला है।

योगी आदित्यनाथ बुधवार को बुलंदशहर के सिकंदराबाद में जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि 2017 में जब वो बुलंदशहर आए थे तो यहाँ आतंक का माहौल था और बेटियां, व्यापारी कोई भी सुरक्षित नहीं था। 2017 में भी दो लड़कों की जोड़ी बनी थी लेकिन जनता नें उन्हें साफ बाहर का रास्ता दिखा दिया। जनता ने एक दिल्ली में रहने वाले और एक लखनऊ में रहने वाले लड़के को कह दिया था कि तुम इस लायक हो ही नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा याद करिए जब 2013 में मुज़फ़्फ़रनगर का दंगा हुआ था, उसमें सचिन और गौरव नाम के दो युवकों की निर्मम हत्या कर दी गई थी। लखनऊ वाला जो लड़का है वो सत्ता में रहकर हत्या करवा रहा था और दंगाइयों को लखनऊ में बुलाकर के उनका सम्मान कर रहा था। अखिलेश यादव पर आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री बोले कि भारतीय जनता पार्टी का जो भी कार्यकर्ता इन दंगाइयों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठा रहा था उनके ख़िलाफ़ झूठे मुक़दमे दर्ज करके उन्हें जेल भेजा जा रहा था। दूसरी तरफ ये दिल्ली वाला लड़का तमाशा देख रहा था और कहता था कि दंगाइयों पर ज्यादा कार्रवाई नहीं होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री ने चेतावनी देते हुए कहा कि एक बार फिर से ये लोग अपने नए कवर के साथ आपके बीच आ रहे हैं, माल तो वही है बस लिफ़ाफ़ा नया है। उन्होंने कहा कि सपा के लोग जनता को आतंकित कर रहे हैं, पत्रकारों को लगातार धमका रहे हैं। इनकी सारी गर्मी हम 10 मार्च के बाद शांत करा देंगे। हम एक तरफ़ विकास करेंगे दूसरी तरफ माफियाओं के खिलाफ बुलडोज़र भी चलवाएंगे। हम ज़ेवर में एयरपोर्ट ला रहे हैं, फिल्म सिटी भी हम बना रहे हैं और तो और डाटा सेंटर का भी निर्माण कर रहे हैं।

सपा पर तंज कसते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकार तमंचे की फ़ैक्ट्री चलाती थी, हम डिफेंस कॉरिडोर दे रहे हैं। जब यहां पर बनी तोप भारत की सीमा पर गरजेगी तो पाकिस्तान के छक्के छूट जाएंगे। प्रदेश में अगर कहीं के सबसे ज्यादा नौजवान सेना में हैं तो वो बुलंदशहर से हैं। पिछली सरकार के लोग तमंचा बनाते थे लूटपाट करने के लिए, हम डिफेंस कॉरिडोर बना रहे हैं देश की रक्षा करने के लिए। हम विकास करते रहेंगे लेकिन बुलडोज़र रुकेगा नहीं। माफ़िया के ऊपर बुलडोज़र चलता रहेगा और दंगाइयों की फ़ोटो हर चौराहे पर लगाकर उनको नोटिस भेजा जाएगा कि तुमने इतने साल पहले दंगा किया था अब समय आ गया है उसकी भरपाई भी करनी पड़ेगी। सदी की सबसे बड़ी महामारी के दौरान भी यह चुनाव हो रहा है और ऐसी परिस्थिति पहली बार है कि कोई महामारी हो और लोकतंत्र के इस पर्व के साथ हम सबको जुड़ने का अवसर प्राप्त हो रहा है। आप सबने वैक्सीन लेकर न केवल अपने आप को कोरोना से बचाया बल्कि उनके मुँह पर तमाचा भी मारा। जैसे आपने शत प्रतिशत वैक्सीन की डोज़ ले ली है वैसे ही चुनाव में एक जोरदार डोज देने की आवश्यकता है।